बिहार में बढ़ते अपराध पर बने स्लोगन सोशल मीडिया पर हो रहे वायरल

बिहार में बढ़ते अपराध पर बने स्लोगन सोशल मीडिया पर हो रहे वायरल

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

पटना:

बिहार के गया में रोडरेज की घटना और सीवान में पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या के बाद बिहार में कथित रूप से गिरती कानून व्यवस्था को लेकर सोशल मीडिया पर तरह-तरह के स्लोगन वायरल हो रहे हैं। बिहार में मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने बकायदा पोस्टर-स्टिकर जारी किया है, जिसे उसके नेता अपने वाहनों पर लगा रहे हैं।

बिहार में बढ़ते अपराध पर भाजपा की ओर से 20 मई को जारी स्टिकर और पोस्टर सोशल मीडिया पर छाए हुए हैं। स्टिकर पर गया रोडरेज की घटना को लेकर बिहार सरकार पर तंज कसते हुए लिखा गया है, 'जगह मिलने पर पास दिया जाएगा, गोली ना मारें।'

यह पोस्टर सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रहा है। भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी कहते हैं कि बिहार में बढ़ते अपराध को लेकर लोगों में आक्रोश है। बिहार के लोग अपने गुस्से का इजहार सोशल मीडिया के जरिए तरह-तरह से कर रहे हैं।

सोशल मीडिया पर मुख्यमंत्री के 'सुशासन' का भी मजाक उड़ाया जा रहा है। सरकार के बारे में कहा गया है, 'गिनती नहीं करते हैं हत्या आउर दुष्कर्म में, इहां तो भैया-चाचा बैठे हैं सरकार में।' यह नारा सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।

बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान नीतीश कुमार के नारे 'बिहार में बहार हो, नीतीशे कुमार हो' की भी पैरोडी बना ली गई है और सोशल मीडिया पर इसे खूब शेयर किया जा रहा है।

बिहार में फेसबुक और व्हाट्सऐप पर वायरल होने वाले कुछ नारे जंगलराज को लक्षित कर बनाए गए हैं। ये नारे हैं, 'तनि सोच समझकर निकलिएगा बाजार में, अच्छी लगीं तो उठा लेंगे कार में,' 'जो भी ओवरटेक करता है बिहार में, गोलिए मार देते हैं कपार में,' 'जो पत्रकार ज्यादा लिखते हैं अखबार में, उनको सरेआम ठोंक देते हैं बिहार में।' इन नारों को सोशल मीडिया पर खूब शेयर किया जा रहा है।

इसके अलावा पूर्व सांसद शहाबुद्दीन द्वारा जेल में कथित तौर पर दरबार लगाए जाने को लेकर भी नारे बनाए गए हैं। कहा गया है, 'बहार ला दिए हैं नीतीशे कुमार बिहार में, सत्ता का दरबार लगता है कारागार में।' यह नारा भी सोशल मीडिया पर छाया हुआ है।

सत्ताधारी दल हालांकि इन नारों को लेकर भाजपा पर ही निशाना साध रहा है।

पूर्व मंत्री और जनता दल (युनाइटेड) के वरिष्ठ नेता श्याम रजक कहते हैं कि 'सुशासन' को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का नाम बिहार में ही नहीं, बल्कि देश और विदेशों में भी प्रसिद्ध हो रहा है। यह भाजपा के लोगों को सहन नहीं हो रहा है। भाजपा के लोग बिहार को बदनाम करने में लगे हैं। उन्होंने दावा किया कि बिहार में भाजपा शासित राज्यों से अपराध की घटनाएं कम होती हैं।

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com