Budget
Hindi news home page

तीव्र शहरीकरण की चुनौती से निपटेगा स्मार्ट शहर : पीएम मोदी

ईमेल करें
टिप्पणियां
तीव्र शहरीकरण की चुनौती से निपटेगा स्मार्ट शहर : पीएम मोदी
मैसूर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीव्र शहरीकरण को चुनौती बताते हुए रविवार को कहा कि स्मार्ट शहर अपने आसपास के शहरों को सक्षम, सुरक्षित और सेवाओं की आपूर्ति में बेहतर बनाएगा।

यहां मैसूर विश्वविद्यालय में 103वें भारतीय विज्ञान कांग्रेस में पीएम मोदी ने कहा, "मानव इतिहास में पहली बार हम एक शहरी शताब्दि में पहुंच चुके हैं। 2050 तक दो-तिहाई वैश्विक आबादी का शहरीकरण हो जाएगा। शहरी आबादी में होने वाली वृद्धि में 90 फीसदी योगदान विकासशील देशों का होगा।"

प्रधानमंत्री ने कहा कि 2025 तक देश की 10 फीसदी आबादी शहरों में रहने लगेगी और 2050 तक आधी आबादी क्षेत्रों का शहरीकरण हो जाएगा।

विश्वविद्यालय के मनसागंगोत्री परिसर में पांच-दिवसीय विज्ञान कांग्रेस का उद्घाटन करने के बाद उन्होंने कहा, "40 फीसदी वैश्विक आबादी झुग्गियों में रहती है, जिन्हें कई स्वास्थ्य और पोषण संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ता है।"

उन्होंने कहा कि दो-तिहाई से अधिक वैश्विक ऊर्जा खपत शहरों में होती है और इसके कारण 80 फीसदी से अधिक ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जन भी शहरों में होता है। शहर आर्थिक विकास, रोजगार अवसरों तथा समृद्धि के प्रमुख इंजन हैं, इसलिए उन्हें टिकाऊ होना होगा।"

उन्होंने वैज्ञानिक समुदाय से कहा कि ठोस कचरा प्रबंधन के लिए सस्ता और व्यावहारिक समाधान ढूंढ़ना होगा, जिससे कचरों से भवन निर्माण सामग्री बनाई जा सके, ऊर्जा उत्पन्न की जा सके और अवजल को पुनर्चक्रित कर पेय जल प्राप्त किया जा सके।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement