कोटा : बच्चों की मौत पर बोलीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी- राजस्थान सरकार ने नहीं की कार्रवाई क्योंकि...

राजस्थान के कोटा स्थित जेके लोन अस्पताल में बीते दिसंबर महीने में 100 से ज्यादा बच्चों की मौत को लेकर शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot Govt) पर निशाना साधा.

कोटा : बच्चों की मौत पर बोलीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी- राजस्थान सरकार ने नहीं की कार्रवाई क्योंकि...

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कोटा में बच्चों की मौत मामले पर राजस्थान सरकार पर सवाल खड़े किए हैं. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • स्मृति ईरानी का गहलोत सरकार पर हमला
  • 'राजस्थान सरकार ने सावधानी नहीं बरती'
  • 'पिछले साल हुई थी 900 से ज्यादा बच्चों की मौत'
कोटा:

राजस्थान के कोटा स्थित जेके लोन अस्पताल में बीते दिसंबर महीने में 100 से ज्यादा बच्चों की मौत को लेकर शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot Govt) पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि पिछले साल 900 से अधिक मौत होने के बाद भी राजस्थान सरकार नहीं चेती.

महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि यह मामला स्वास्थ्य मंत्रालय से जुड़ा हुआ है और राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग इसकी रिपोर्ट मंत्रालय को सौंपेगा. उन्होंने कहा कि इस मामले में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की टिप्पणी से वह आहत हैं. ईरानी ने कहा, 'वर्तमान में राजस्थान के मुख्यमंत्री की ओर से जिस तरह के वाक्य मैं सुन रही हूं, उससे एक मां और भारतीय होने के कारण दुखी हूं.'

रेप की घटनाओं पर बहस के दौरान केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का विपक्ष पर निशाना

केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा, 'राजस्थान सरकार ने इतनी मौतों के बावजूद कोई कार्रवाई इसलिए नहीं की क्योंकि मरने वाले बच्चे गरीब थे.' राज्य के अधिकारियों द्वारा बताए गए आंकड़ों के अनुसार जेके लोन सरकारी अस्पताल में साल 2019 में 963 बच्चों की मौत हुई थी, जबकि इसके पिछले वर्ष में यह आंकड़ा 1000 से ऊपर पहुंच गया था. बीते शुक्रवार मीडिया से बात करते हुए सीएम अशोक गहलोत ने कहा था, 'घटना सामने आते ही एक्सपर्ट टीम चली गई. जांच कर ली. इलाज में कोई लापरवाही नहीं मिली.'

VIDEO: बच्चों की मौत पर बोले CM अशोक गहलोत- इलाज में नहीं थी लापरवाही



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com