तिहाड़ जेल में बंद पी. चिदंबरम से सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने की मुलाकात

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने आज दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम से मुलाकात की है. गौरतलब है कि आईएनएक्स मीडिया मामले में पी चिंदबरम को पिछले दिनों अदालत ने न्यायिक हिरासत में भेज दिया था. 

खास बातें

  • INX मीडिया मामला
  • तिहाड़ जेल में बंद हैं पी. चिदंबरम
  • न्यायिक हिरासत में हैं चिदंबरम
नई दिल्ली:

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने आज दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम से मुलाकात की है. गौरतलब है कि आईएनएक्स मीडिया मामले में पी चिंदबरम को पिछले दिनों अदालत ने न्यायिक हिरासत में भेज दिया था. इससे पहले 18 सितंबर को कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं अहमद पटेल और गुलाम नबी आजाद ने  जेल में चिदंबरम से मुलाकात की थी. बताया जा रहा है कि इस मुलाकात में कांग्रेस सांसद कार्ति चिदंबरम भी मौजूद थे. कांग्रेस के नेताओं ने चिदंबरम के साथ कश्मीर, आगामी विधानसभा चुनावों, अर्थव्यवस्था और मौजूदा राजनीतिक हालात पर चर्चा की है. यह मुलाकात करीब आधे घंटे चली थी. इससे पहले पी. चिदंबरम ने CBI पर तंज कसा है. उन्होंने एक ट्वीट कर कहा,  सीबीआई को लगता है कि मेरे सोने के पंख लगेंगे और यहां से उड़कर देश के बाहर चला जाऊंगा. चिदंबरम ने अपने ट्वीट में लिखा कि मैं इस बात से काफी रोमांचित हू्ं कि सीबीआई को ऐसा लगता है कि मेरे सोने के पंख भी निकल सकते हैं. बता दें कि गुरुवार को पी चिदंबरम के वकील ने कोर्ट को बताया था कि जेल में पूर्व वित्त मंत्री को न तकिया और न ही कुर्सी दी गई है. इस वजह से उन्हें कमर दर्द होना शुरू हो गया है. हालांकि, कोर्ट ने सरकार का पक्ष जानने के बाद इस दावे पर ज्यादा गौर नहीं किया और कहा कि जेल में ऐसी छोटी चीजें होती रहती हैं.  

कोर्ट में छलका चिदंबरम का 'दर्द'- पहले बैठने के लिए कुर्सी थी, लेकिन अब उसे भी...'

कुछ दिन पहले ही पी चिदंबरम को कोर्ट से एक बड़ा झटका लगा था. कोर्ट ने मामले की सुनवाई के दौरान चिदंबरम की न्यायिक हिरासत को 3 अक्टूबर तक बढ़ा दिया था. इस वजह से अब उन्हें 14 दिन और तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में रहना पड़ेगा. उनकी जमानत याचिका पर 23 सितंबर को हाईकोर्ट में सुनवाई होगी. चिदंबरम 5 सितंबर से तिहाड़ जेल में हैं. चिदंबरम की पैरवी कर रहे वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने न्यायिक हिरासत की अवधि बढ़ाने के सीबीआई के अनुरोध का विरोध किया था. सिब्बल ने अदालत से अनुरोध किया था कि उनके मुव्वकिल को न्यायिक हिरासत के दौरान तिहाड़ जेल में रहते हुए समय-समय पर मेडिकल जांच तथा पर्याप्त मात्रा में पूरक आहार मुहैया कराए जाए.

पी चिदंबरम की न्यायिक हिरासत 14 दिन तक बढ़ी​

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इनपुट : ANI से