सोनिया ने रेल कोच कारखाने का उद्घाटन किया, डिब्बों को दिखाई हरी झंडी

सोनिया ने रेल कोच कारखाने का उद्घाटन किया, डिब्बों को दिखाई हरी झंडी

खास बातें

  • कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी बुधवार से दो दिन के यूपी के दौरे पर रायबरेली पहुंची। रायबरेली में सोनिया गांधी ने एक रेल कोच फैक्टरी का उद्घाटन किया।
रायबरेली (उत्तर प्रदेश):

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बुधवार को अपने संसदीय क्षेत्र रायबरेली में 1,685 करोड़ रुपये की लागत वाले आधुनिक रेल कोच निर्माण कारखाने का उद्घाटन किया और डिब्बों की पहली खेप को हरी झंडी दिखाई।

सितंबर माह में तृणमूल कांग्रेस द्वारा संप्रग सरकार से समर्थन वापस लिए जाने के बाद कांग्रेस को करीब 16 साल के अंतराल से रेल मंत्रालय की कमान मिली और इसके कुछ सप्ताह बाद परियोजना पर काम शुरू कर दिया गया।

रायबरेली की सबसे बड़ी और देश की तीसरी सबसे बड़ी परियोजना ‘रेल कोच फैक्टरी’ (आरसीएफ) की आधारशिला जनवरी, 2009 में लोकसभा चुनाव से कुछ दिन पहले ही रखी गई थी। तब उत्तर प्रदेश की बसपा सरकार ने इसे चुनाव से पहले फायदा उठाने के लिए अपनाया गया ‘राजनीतिक हथकंडा’ करार दिया था।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

सोनिया ने लालगंज में आरसीएफ के उद्घाटन समारोह में कहा, ‘‘मैं यहां उन लोगों का जिक्र करना चाहती हूं जिन्होंने परियोजना को लेकर अफवाहें फैलाईं, लेकिन इसे इतने कम समय में पूरा कर लिया गया।’’ शुरूआत में परियोजना के लिए रेलवे को जमीन देने से मना कर दिया गया था जिसके लिए रेलवे ने बसपा सरकार को जिम्मेदार ठहराया।

सोनिया ने कहा कि इस कारखाने से न केवल स्थानीय लोगों के लिए रोजगार के अवसरों का निर्माण होगा बल्कि क्षेत्र का विकास भी सुनिश्चित होगा। उन्होंने यह भी कहा कि किसानों को उनकी जमीन के लिए रेलवे ने पूरा मुआवजा दिया।