NDTV Khabar

सोनिया गांधी ने शुक्रवार को बुलाई विपक्षी दलों की बैठक, येचुरी बोले- जाना तय नहीं

सीपीएम महासचिव के इस बयान से विपक्ष को एकजुट करने की कवायद कमजोर पड़ती नजर आ रही है. यह महत्वपूर्ण है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी इस बैठक में भाग नहीं ले रहे हैं. शरद यादव इस बैठक में भाग लेंगे. 

161 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
सोनिया गांधी ने शुक्रवार को बुलाई विपक्षी दलों की बैठक, येचुरी बोले- जाना तय नहीं

सीताराम येचुरी ने की एनडीटीवी से बात

खास बातें

  1. नीतीश कुमार भी बैठक में भाग नहीं लेंगे
  2. सोनिया गांधी ने शुक्रवार को बुलाई है बैठक
  3. राष्ट्रपति चुनाव को लेकर होनी है चर्चा
नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शुक्रवार को विपक्षी दलों की बैठक में सीपीएम के नेता भाग लेंगे या नहीं इस पर संशय की स्थिति खड़ी हो गई. सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी ने एनडीटीवी से कहा कि ये बैठक नहीं है. भोज है. देखा जाएगा कि हम इसमें भाग लेंगे या नहीं. जब उनसे पूछा गया कि आपने अभी तक तय नहीं किया. तो वह बोले कि नहीं.

सीपीएम महासचिव के इस बयान से विपक्ष को एकजुट करने की कवायद कमजोर पड़ती नजर आ रही है. यह महत्वपूर्ण है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी इस बैठक में भाग नहीं ले रहे हैं. शरद यादव भाग लेंगे. 

सीताराम येचुरी ने एनडीटीवी से यह भी कहा कि विपक्षी दलों का गठबंधन बनाना एजेंडे पर नहीं है. सवाल सिर्फ ये है कि राष्ट्रपति चुनाव में किसको खड़ा किया जाए, क्या उस पर कोई सहमति संभव है या नहीं.

टिप्पणियां
आईएएनएस में छपी खबर के अनुसार :  बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार राष्ट्रपति चुनाव को लेकर शुक्रवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की ओर से बुलाई गई विपक्ष की बैठक में हिस्सा नहीं लेंगे. इसकी वजह 'कुछ पूर्व निर्धारित व्यस्तता' बताई गई है. राज्यसभा सांसद और जनता दल (युनाइटेड) के प्रवक्ता के.सी.त्यागी ने बताया, सोनिया गांधी जी की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में नीतीश कुमार जी शामिल नहीं होंगे. उन्होंने कहा, पार्टी के वरिष्ठ नेता शरद यादव बैठक में जदयू का प्रतिनिधित्व करेंगे.

सोनिया गांधी ने अपने आवास पर दोपहर के भोज के लिए प्रमुख विपक्षी नेताओं को आमंत्रित किया है, जहां राष्ट्रपति चुनाव के लिए विपक्ष के साक्षा उम्मीदवार के चयन पर चर्चा की जाएगी. नीतीश के इस बैठक में शामिल नहीं होने का कारण पूछने पर त्यागी ने कहा, "वह सरकार के कुछ महत्वपूर्ण कार्यो में व्यस्त हैं और इसलिए नहीं आ पाएंगे. नीतीश पहले शख्स हैं, जिन्होंने आगामी राष्ट्रपति चुनाव में इस पद के लिए विपक्ष के एक साझा उम्मीदवार को उतारने के मुद्दे पर सोनिया गांधी से मुलाकात की थी.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement