JNU हिंसा पर बोलीं कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी- गुंडों को उकसाती है मोदी सरकार

सोनिया गांधी ने JNU हिंसा मामले में कहा, 'भारत के युवाओं और छात्रों की आवाज हर दिन दबाई जा रही है. देश के युवाओं पर भयावह एवं अप्रत्याशित ढंग से हिंसा की गई.'

JNU हिंसा पर बोलीं कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी- गुंडों को उकसाती है मोदी सरकार

JNU हिंसा मामले में सोनिया गांधी ने मोदी सरकार पर हमला बोला. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • JNU हिंसा पर सोनिया गांधी का बयान
  • 'गुंडों को उकसा रही मोदी सरकार'
  • 'मामले की हो स्वतंत्र न्यायिक जांच'
नई दिल्ली:

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (Jawaharlal Nehru University) में हुई हिंसा की निंदा की. उन्होंने नरेंद्र मोदी सरकार (Narendra Modi Govt) पर तीखा हमला बोला और कहा कि इस पूरे मामले की स्वतंत्र न्यायिक जांच होनी चाहिए. सोनिया गांधी ने JNU हिंसा मामले में कहा, 'भारत के युवाओं और छात्रों की आवाज हर दिन दबाई जा रही है. देश के युवाओं पर भयावह एवं अप्रत्याशित ढंग से हिंसा की गई और ऐसा करने वाले गुंडों को सत्तारूढ़ मोदी सरकार की ओर से उकसाया गया है. यह हिंसा निंदनीय और अस्वीकार्य है.'

कांग्रेस अध्यक्ष ने आगे कहा, 'पूरे भारत में शैक्षणिक परिसरों और कॉलेजों पर भाजपा सरकार से सहयोग पाने वाले तत्व एवं पुलिस रोजाना हमले कर रही है. हम इसकी निंदा करते हैं और स्वतंत्र न्यायिक जांच की मांग करते हैं. जेएनयू में छात्रों एवं शिक्षकों पर हमले इस बात का प्रमाण हैं कि यह सरकार विरोध के हर स्वर को दबाने के लिए किसी भी हद तक जाएगी. कांग्रेस देश के युवाओं और छात्रों के साथ खड़ी है'

JNUSU अध्यक्ष आइशी घोष के पिता बोले- आज मेरी बेटी पर हमला, कल किसी और की बेटी पर होगा

गौरतलब है कि दिल्ली स्थित जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (Jawaharlal Nehru University) में बीते रविवार छात्रों और शिक्षकों से जमकर मारपीट की गई. 50 से ज्यादा नकाबपोश हमलावरों ने इस वारदात को अंजाम दिया. वह लोग अपने साथ लोहे की रॉड, लाठी-डंडे और धारदार हथियार लेकर कैंपस में दाखिल हुए थे.

JNU हिंसा में शामिल हमलावरों को पहचानने के लिए खंगाल रहे हैं CCTV फुटेज और वायरल स्क्रीनशॉट्स- दिल्ली पुलिस

JNU छात्रसंघ अध्यक्ष आइशी घोष (Aishe Ghosh) के हाथों और सिर पर वार किया गया, जिससे वह लहूलुहान हो गईं. हमले में घायल हुए सभी छात्रों और शिक्षकों को AIIMS ले जाया गया, जहां सोमवार सुबह उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया. आइशी ने यूनिवर्सिटी के वीसी एम. जगदीश कुमार को इसका जिम्मेदार ठहराया है. आइशी ने वीसी के इस्तीफे की मांग की है. (इनपुट भाषा से भी)

Newsbeep

VIDEO: EXCLUSIVE: JNU में ऐसे भड़की थी हिंसा, हमलावर कर रहे थे कोडवर्ड का यूज: सूत्र

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com