NDTV Khabar

तृणमूल छोड़ भाजपा का दामन थामने वाले सांसद सौमित्र खान को गिरफ्तारी से मिली अंतरिम राहत

सौमित्र खान (Soumitra Khan)​ को कलकत्ता उच्च न्यायालय ने सोमवार को चार सप्ताह तक के लिए गिरफ्तारी से अंतरिम राहत दे दी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तृणमूल छोड़ भाजपा का दामन थामने वाले सांसद सौमित्र खान को गिरफ्तारी से मिली अंतरिम राहत

सौमित्र खान (Soumitra Khan) पिछले दिनों ही भाजपा में शामिल हुए थे.

नई दिल्ली :

हाल ही में तृणमूल कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थामने वाले सांसद सौमित्र खान (Soumitra Khan) को कलकत्ता उच्च न्यायालय ने सोमवार को चार सप्ताह तक के लिए गिरफ्तारी से अंतरिम राहत दे दी. उन पर नौकरी देने का वादा करके धन ठगने का आरोप है. अंतरिम जमानत याचिका पर सुनवाई करते हुए न्यायमूर्ति जॉयमला बागची के नेतृत्व वाली एक खंड पीठ ने विष्णुपुरा के सांसद सौमित्र खान को अगले आदेश तक बांकुरा जिले में प्रवेश नहीं करने को कहा है. आपको बता दें कि बांकुरा जिले के बरजोरा पुलिस थाने में मामला दर्ज कराके तीन लोगों ने खान पर सरकारी नौकरी देने का वादा करके धन ठगने का आरोप लगाया था. शिकायतकर्ताओं ने दावा किया कि धन मुहैया कराने के बाद भी सांसद ने उन्हें नौकरी नहीं दी. 

लोकसभा चुनाव से पहले ममता बनर्जी को झटका, TMC सांसद सौमित्र खान ने थामा भाजपा का दामन


टिप्पणियां

आपको बता दें पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) को लोकसभा चुनाव से ठीक पहले झटका देते हुए तृणमूल कांग्रेस (TMC) सांसद सौमित्र खान (Soumitra Khan) पिछले दिनों भारतीय जनता पार्टी (BJP) में शामिल हो गए थे. सौमित्र खान के भगवा पार्टी में शामिल होने की घोषणा बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात के बाद एक संवाददाता सम्मेलन में की गई. इस मौके पर केंद्रीय मंत्री धर्मेद्र प्रधान व पश्चिम बंगाल के नेता मुकुल रॉय भी मौजूद थे. सौमित्र खान 2014 में 16वीं लोकसभा के लिए निर्वाचित हुए थे. वह विष्णुपुरा निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं. इससे पहले खान कातुलपुर से विधायक थे. (इनपुट-भाषा से भी)

VIDEO: तीसरे मोर्चे के लिए केसीआर की कवायद



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement