Lockdown 4.0 में कुछ खास इलाकों में शुरू होंगी हवाई और बस सेवाएं : सूत्र

गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने NDTV को बताया कि जहां तक मुमकिन है सबसे पहली राहत पब्लिक ट्रांसपोर्ट के क्षेत्र में दी जाएगी, जमीन पर और हवा में, यानी चिन्हित क्षेत्रों में हवाई व बस सेवाओं को शुरू किया जाएगा.

खास बातें

  • 17 मई तक लागू रहेगा लॉकडाउन का तीसरा चरण
  • 18 मई से शुरू हो रहा है लॉकडाउन का चौथा चरण
  • भारत में 17 मई को पूरे होंगे लॉकडाउन के 54 दिन
नई दिल्ली:

देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) से बचाव के चलते लॉकडाउन (Lockdown) लगाया गया है. वर्तमान में लॉकडाउन का तीसरा चरण चल रहा है. यह 17 मई तक लागू रहेगा. 18 मई से लॉकडाउन 4.0 (Lockdown 4.0) शुरू होगा लेकिन यह इसके तीन चरणों से थोड़ा अलग होगा. सरकार की कोशिश है कि लॉकडाउन के चौथे चरण में जमीन पर हालातों को सामान्य दिखाया जाए. गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने NDTV को बताया कि जहां तक मुमकिन है सबसे पहली राहत पब्लिक ट्रांसपोर्ट के क्षेत्र में दी जाएगी, जमीन पर और हवा में, यानी चिन्हित क्षेत्रों में हवाई व बस सेवाओं को शुरू किया जाएगा.

अधिकारी ने बताया, 'नॉन-हॉटस्पॉट वाले इलाकों में सीमित क्षमता के साथ बसों को चलाना शुरू किया जाएगा. सवारियों की क्षमता को ध्यान में रखते हुए ऑटो और टैक्सी चलाए जाने की भी अनुमति दी जाएगी. इनमें से ज्यादातर को सिर्फ संबंधित जिले (नॉन कंटेनमेंट जोन) में ही चलने की अनुमति दी जाएगी.' उन्होंने कहा कि इसकी सीमाएं राज्य तय करेंगे.

एक राज्य से दूसरे राज्य में जाने के लिए ट्रैवल पास जरूरी होगा. सरकार अगले हफ्ते से घरेलू हवाई उड़ानों को भी शुरू करने की तैयारी कर रही है. पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 12 मई को सभी राज्य के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की थी. मीटिंग में प्रधानमंत्री ने लॉकडाउन में ढील को लेकर मुख्यमंत्रियों से प्रस्ताव मांगे थे. फिलहाल गृह मंत्रालय के अधिकारी लॉकडाउन के चौथे चरण के दिशा-निर्देश तैयार कर रहे हैं.

उन्होंने इस ओर भी संकेत दिया कि लॉकडाउन के चौथे चरण में राज्यों को हॉटस्पॉट चिन्हित करने की अनुमति प्रदान की जाएगी. पीएम मोदी के साथ बैठक में कई मुख्यमंत्रियों ने यह मुद्दा उठाया था. राज्यों द्वारा हॉटस्पॉट घोषित क्षेत्रों में किसी भी तरह की गतिविधि की अनुमति नहीं होगी. सरकार इस दिशा में काम कर रही है. मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक के बाद पीएम मोदी ने देश को संबोधित किया था. प्रधानमंत्री ने कहा था कि 'लॉकडाउन 4.0' नए नियम-शर्तों के साथ बिल्कुल अलग होगा.

एक अन्य अधिकारी ने कहा कि महाराष्ट्र में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं और राज्य सरकार लॉकडाउन को आगे बढ़ाने की प्लानिंग कर रही है. वह जिलों के भीतर किसी भी तरह का मूवमेंट नहीं चाहते हैं. वह नहीं चाहते हैं कि इन क्षेत्रों में फिलहाल के लिए दफ्तर खुलें. ऑरेंज और ग्रीन जोन में आने वाले उद्योगों को जरूर दोबारा शुरू करने की अनुमति दी जा सकती है.

एक अन्य अधिकारी ने जानकारी दी कि केरल सरकार टूरिज्म सेक्टर को फिर से प्रभावी बनाने के लिए मेट्रो, बसें, घरेलू हवाई सेवा, रेस्टोरेंट्स और होटलों को फिर से शुरू करना चाहती है. राज्य में कोरोना के 535 मामले सामने आए हैं और इनमें से ज्यादातर लोग ठीक हो गए हैं. केरल में 494 लोग क्वारंटाइन में हैं. महाराष्ट्र के साथ-साथ बिहार, झारखंड और ओडिशा भी 18 मई से लॉकडाउन बढ़ाने के पक्ष में हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: रवीश कुमार का प्राइम टाइम : कोरोना संकट में छोटे उद्योगों को बड़ा पैकेज