NDTV Khabar

सपा, बसपा और कांग्रेस हलफनामा दें कि वे ‘तीन तलाक’ के साथ हैं या नहीं : अमित शाह

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सपा, बसपा और कांग्रेस हलफनामा दें कि वे ‘तीन तलाक’ के साथ हैं या नहीं : अमित शाह

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह.

खास बातें

  1. कहा, यूपी का अगला चुनाव महिलाओं के सम्मान के मुद्दे पर भी लड़ा जाए
  2. मोदी सरकार महिलाओं के विकास, सम्मान और अधिकार के लिए कटिबद्ध
  3. शाह ने सोनभद्र में परिवर्तन यात्रा के तीसरे चरण की शुरुआत की
सोनभद्र: उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनावों में संभवत: महिला वोटरों को लुभाने की कवायद में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आज आह्वान किया कि अगला चुनाव विकास के साथ-साथ महिलाओं के सम्मान के मुद्दे पर लड़ा जाए.

शाह ने यहां परिवर्तन यात्रा के तीसरे चरण की शुरुआत करते हुए कहा, ‘‘महिलाओं को इस देश में समान अधिकार मिलना चाहिए. मैं मातृशक्ति का आहवान करना चाहता हूं .. उत्तर प्रदेश के अगले चुनाव विकास के साथ-साथ, गुंडागर्दी समाप्त करने के साथ-साथ महिलाओं के सम्मान के मुद्दे पर लड़ा जाए.’’

उन्होंने तीन तलाक के मुद्दे पर सपा, बसपा और कांग्रेस से कहा कि वे हलफनामा दें कि ‘तीन तलाक’ के साथ हैं या नहीं. उच्चतम न्यायालय ने मोदी सरकार से पूछा कि इस देश में तीन तलाक होना चाहिए या नहीं. मोदी जी ने कहा कि भाजपा की सरकार महिलाओं के अधिकार के लिए कटिबद्ध सरकार है और महिलाओं को उनके अधिकार मिलेंगे.

शाह ने कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस को सांप सूंघ गया है. कोई इस मुद्दे पर बोलता नहीं है. हमने तीन तलाक हटाने और महिला अधिकारों की रक्षा करने, उनके सम्मान को लेकर अपना रुख स्पष्ट रूप से रखा है. ‘‘भाजपा का एक-एक कार्यकर्ता मातृशक्ति को जागृत करे और समझाए कि मोदी सरकार आपके विकास, सम्मान और अधिकार के लिए कटिबद्ध है.’’

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement