NDTV Khabar

एसपी वैद को जम्मू-कश्मीर के डीजीपी पद से हटाया गया, क्‍या आतंकी के पिता को छोड़े जाने की मिली सज़ा?

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद को हटा दिया गया है. अब उनकी जगह दिलबाग सिंह राज्य के नए डीजीपी होंगे. दिलबाग सिंह 1987 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं और फिलहाल डीजीपी प्रिजन हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एसपी वैद को जम्मू-कश्मीर के डीजीपी पद से हटाया गया, क्‍या आतंकी के पिता को छोड़े जाने की मिली सज़ा?

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद को हटा दिया गया है.

खास बातें

  1. जम्मू-कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद को हटा दिया गया है
  2. अब उनकी जगह दिलबाग सिंह राज्य के नए डीजीपी होंगे.
  3. दिलबाग सिंह 1987 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं
नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद को हटा दिया गया है. अब उनकी जगह दिलबाग सिंह राज्य के नए डीजीपी होंगे. दिलबाग सिंह 1987 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं और फिलहाल डीजीपी प्रिजन हैं. वहीं एसपी वैद को अब ट्रांसपोर्ट कमिश्नर बना दिया गया है. हाल ही में घाटी में पुलिसकर्मियों के परिवारवालों को आतंकियों से छुड़ाने के बदले एक आतंकी के पिता को छोड़ा गया था. माना जा रहा है कि केंद्र सरकार इससे नाख़ुश थी, जिसके बाद पुलिस विभाग के आला अधिकारियों में फेरबदल किया गया. एसपी वैद के डिप्टी अब्दुल गनी मीर की जगह डॉ बी श्रीनिवास को लाया गया है.

जम्मू-कश्मीर के पुलिस प्रमुख बदले गए, दिलबाग सिंह को सौंपा अतिरिक्त प्रभार

 
एसपी वैद ने ट्वीट करके कहा है कि मैं भगवान का शुक्रगुज़ार हूं कि उन्होंने मुझे अपने लोगों और अपने देश की सेवा का मौक़ा दिया. जम्मू-कश्मीर पुलिस, सुरक्षा एजेंसियां और जम्मू कश्मीर के लोगों ने मुझमें विश्वास दिखाया और मेरा साथ दिया, इसके लिए उनका शुक्रगुज़ार हूं. नए डीजीपी को मेरी शुभकामनाएं.

Exclusive: जम्‍मू कश्‍मीर के नए राज्‍यपाल सतपाल मलिक से खास बातचीत

गृह विभाग के प्रधान सचिव द्वारा आदेश में कहा गया है कि 1986 बैच के आईपीएस अधिकारी वैद्य का तबादला यातायात आयुक्त के पद पर किया गया है. आदेश में लिखा है कि एक स्थायी व्यवस्था होने तक 1987 बैच के आईपीएस अधिकारी और कारागार विभाग के प्रमुख दिलबाग सिंह इस पद का अतिरिक्त प्रभार संभालेंगे.

आतंकी हमलों के मद्देनजर जम्मू कश्मीर पुलिस खरीदेगी बुलेटप्रूफ वाहन

टिप्पणियां
आपको बता दें कि अगस्‍त में बिहार के राज्यपाल सतपाल मलिक को जम्मू एवं कश्मीर का राज्यपाल नियुक्त किया गया था. उनसे पहले एन.एन. वोहरा 10 साल से अधिक समय से इस राज्य के राज्यपाल थे. सतपाल ने राज्‍यपाल नियुक्‍त किए जाने के बाद कहा था कि जम्‍मू-कश्‍मीर में जो सिचुएशन है उससे मैं वाकिफ हूं, वहां जितने भी राजनीतिक दल के लोग हैं उनसे मेरे व्‍यक्तिगत संबंध हैं और जो मुझे जनादेश है प्रधानमंत्री का, जो उन्‍होंने कोशिशें की हैं 3-4 सालों में जम्‍मू कश्‍मीर के लिए, बड़े पैमाने पर रुपया दिया है, मदद दी है, बाढ़ में गए हैं, त्‍योहारों में गए हैं, तो वो जो जनादेश है. प्रधानमंत्री का जो सपना है कश्‍मीर के लिए लोगों के दिल जीतने का, प्रयास करेंगे, एक कल्‍याणकारी तरह की सरकार देंगे.

VIDEO: सतपाल मलिक बने जम्‍मू कश्‍मीर के नए राज्यपाल
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement