फंसे स्टूडेंट्स-मजदूरों के लिए स्पेशल ट्रेनें, केरल से आज रवाना होंगी 5 रेलगाड़ियां, पढ़ें 10 अहम बातें 

कोरोनावायरस लॉकडाउन (Coronavirus Lockdown) की वजह से फंसे प्रवासी मजदूरों, छात्रों और अन्य को लेकर छह श्रमिक ट्रेनें केरल, तेलंगाना, महाराष्ट्र और राजस्थान से शुक्रवार को रवाना हुईं.

फंसे स्टूडेंट्स-मजदूरों के लिए स्पेशल ट्रेनें, केरल से आज रवाना होंगी 5 रेलगाड़ियां, पढ़ें 10 अहम बातें 

फंसे मजदूरों और छात्रों के लिए विशेष श्रमिक ट्रेनें

नई दिल्ली: कोरोनावायरस लॉकडाउन (Coronavirus Lockdown) की वजह से फंसे प्रवासी मजदूरों, छात्रों और अन्य को लेकर छह श्रमिक विशेष ट्रेनें शुक्रवार को केरल, तेलंगाना, महाराष्ट्र और राजस्थान से शुक्रवार को रवाना हुईं. यह ट्रेनें झारखंड, ओडिशा, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और बिहार के लिए हैं. संबंधित राज्यों के अनुरोध पर इन ट्रेनों की व्यवस्था की गई है. भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने बयान में यह जानकारी दी. बयान में कहा गया है कि आने वाले दिनों में इस तरह की और ट्रेनें चलाई जाएंगी. सरकार ने उन फंसे लोगों को यात्रा की अनुमति दी है, जिनमें कोरोना के लक्षण नहीं है. सरकार ने पहले फंसे लोगों को उनके राज्यों तक भेजने के लिए सिर्फ बसों की अनुमति दी थी, लेकिन राज्य सरकारों के अनुरोध के बाद विशेष ट्रेनों की अनुमति दी गई. 

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :

  1. दीनदयाल उपाध्याय स्टेशन पर जयपुर से श्रमिक स्पेशल ट्रेन आज पहुंची, जो पटना जाएगी. यहां पर ट्रेन में सफर कर रहे लोगों को खाना दिया गया. उसे पटना के लिए रवाना किया गया. इस दरमियान मीडिया के लोगों को अंदर नहीं जाने दिया गया, कवरेज के लिए मना किया गया. उन्हें बाहर ही जानकारी दी गई. 

  2. नासिक से लखनऊ के लिए आज सुबह 10 बजकर 22 मिनट पर विशेष ट्रेन रवाना हुई. ट्रेन में 847 यात्री सवार हैं, जिसमें पांच साल से कम उम्र के 8 बच्चे भी शामिल हैं. उन्हें सोशल डिस्टैंसिंग के सभी नियमों का पालन करने के लिए कहा गया है. 

  3. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि 10 लाख प्रवासी मजदूर के वापस राज्य लौटने की उम्मीद है और इन सभी को 14 दिन के बजाए 21 दिन तक क्वरंटाइन में रखा जाएगा. मुख्यमंत्री ने यह आदेश आला अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए हुई बैठक में दिया है. 6 घंटे तक चली इस बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि क्वरंटाइन सेंटर में सभी प्रवासी मजदूरों को स्किल ट्रेनिंग भी दी जाएगी. 

  4. हर श्रमिक ट्रेन में 1,000 से 1,200 लोग यात्रा करेंगे ताकि सोशल डिस्टैंसिंग के नियमों का पालन किया जा सके. ट्रेन में चढ़ने से पहले सभी यात्रियों की स्क्रीनिंग की जाएगी, जिनमें कोरोना के लक्षण नहीं होंगे, उन्हें ही यात्रा की अनमुति होगी. 

  5. रेलने ने कहा कि यात्रा शुरू होने वाले स्थान पर सरकार की ओर से सभी यात्रियों को खाना और पानी दिया जाएगा. रेलवे ने जोर दिया कि ये विशेष ट्रेनें राज्य सरकार की ओर से नामित या पहचान किए गए लोगों के लिए हैं. ट्रेन में सवार होने के लिए कोई भी स्टेशन नहीं जाए.

  6. आज केरल से पांच और ट्रेनें चलेंगी. जिसमें से दो कोच्चि और एक तिरुवनंतपुरम से चलेगी. दो ट्रेनें किस स्टेशन से चलेंगी इस पर अभी फैसला नहीं हुआ है. तिरुवनंतपुरम से रवाना होने वाली ट्रेन के दोपहर 2 बजे निकलने की उम्मीद है. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करने के लिए लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए पुलिस अधिकारी स्टेशन के बाहर गोले बना रहे हैं. 

  7. झारखंड सरकार में मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर ने ट्वीट में कहा, "तेलंगाना से चलकर आए हमारे 470 मजदूर भाई गढ़वा पहुंच चुके हैं. स्वास्थ्य जांच के उपरांत उन्हें अपने गंतव्य के लिए रवाना किया जाएगा."

  8. झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने शुक्रवार रात को ट्वीट में कहा- कोटा से झारखण्ड के बच्चों का पहला जत्था भी राँची जोन के लिए निकल पड़ा है. इस मदद के लिए केंद्र सरकार, अशोक गहलोत एवं राजस्थान सरकार के सभी पदाधिकारियों का मेरा सहृदय आभार. कल धनबाद जोन के लिए दूसरी ट्रेन चलेगी.  

  9. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लिखा- "राज्य सरकार की पुरजोर मांग के बाद केन्द्र सरकार ने प्रवासियों एवं श्रमिकों के आवागमन के लिए विशेष ट्रेनों के संचालन की अनुमति दे दी है. यह खुशी की बात है कि राजस्थान से ट्रेन का संचालन शुरू हो गया है." उन्होंने आगे लिखा- मुझे बहुत खुशी है कि कोटा में फंसे झारखंड के छात्र आज जा रहे हैं और वे जल्द ही अपने परिवार से मिल सकेंगे.

  10. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोनावायरस की चेन को तोड़ने के लिए देशभर में 25 मार्च से लॉकडाउन लागू किया था. जिसे बाद में बढ़ाकर 3 मई तक किया गया. सरकार ने शुक्रवार को लॉकडाउन को बढ़ाने का ऐलान किया. लॉकडाउन को 17 मई तक के लिए बढ़ाया गया है.  



 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com