शबरीमला से लौटते श्रद्धालुओं में भगदड़, 102 मरे

खास बातें

  • केरल के इडुक्की जिले में शबरीमाला मंदिर का दर्शन कर लौट रहे श्रद्धालुओं में से कम से कम 102 लोगों की भगदड़ में मौत हो गई है।
इडुक्की:

शबरीमाला अयप्पा मंदिर से लौट रहे कम से कम 102 श्रद्धालुओं की भगदड़ में मौत हो गई। कम से कम 100 अन्य लोगों के घायल होने की खबर है। केरल के इडुक्की जिले में हुई इस घटना में श्रद्धालुओं के बीच एक जीप घुस गई, जिससे भगदड़ मची। जिला प्रशासन के सूत्रों ने कहा कि प्रदेश की राजधानी से करीब 300 किलोमीटर की दूरी पर दुर्घटना तब हुई जब कुछ श्रद्धालुओं को ले जा रही जीप मकर संक्राति पूजा से लौट रहे श्रद्धालुओं की भीड़ के बीच जा घुसी। उन्होंने कहा कि मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है। पुलिस ने कहा कि जीप जब पलट गई तो लोगों में भगदड़ मच गई और वे इधर-उधर भागने लगे। कई घायलों को नजदीक के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। राज्य के गृह मंत्री कोडियारी बालाकृष्णन ने पुलिस महानिदेशक सहित शीर्ष पुलिस अधिकारियों को घटनास्थल की ओर रवाना होने का आदेश दिया है। हादसे में मरने वाले ज्यादातर श्रद्धालु तमिलनाडु के थे। वे शबरीमाला मंदिर का दर्शन करने के बाद पोंगल का त्योहार मनाने के लिए अपने घरों को लौट रहे थे। दुर्घटनास्थल शबरीमाला से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर है। शुरुआती आकलन के अनुसार करीब डेढ़ लाख श्रद्धालु इस मार्ग से अपने घर के लिए रवाना हुए। भारी यातायात और इलाके में संकरी सड़क होने के कारण राहत अभियान में देरी हो रही है। मकर संक्राति पूजा के लिए हजारों श्रद्धालु मंदिर में आते हैं जो भगवान अयप्पा मंदिर में दो महीने की तीर्थयात्रा का अंतिम चरण माना जाता है। वे मकर ज्योति के बाद लौट रहे थे। श्रद्धालु इसे दैवीय ज्योति के तौर पर मानते हैं। पवित्र आभूषण तिरुवभारनम से भगवान की मूर्ति को पहनाकर आरती से पहले गर्भ गृह में लाया जाता है और फिर उनकी पूजा की जाती है।(इनपुट एजेंसियों से भी)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com