NDTV Khabar

बाढ़ प्रभावित बराक घाटी के लिए राज्य सरकार ने दिया 100 करोड़ रुपये का राहत पैकेज 

एएसडीएमए ने बताया कि वर्तमान में 394 गांव पानी से घिरे हुए हैं और 3,100 हेक्टेयर की फसल को नुकसान पहुंचा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बाढ़ प्रभावित बराक घाटी के लिए राज्य सरकार ने दिया 100 करोड़ रुपये का राहत पैकेज 

प्रतीकात्मक चित्र

खास बातें

  1. बाढ़ की वजह से 3100 हेक्टेयर फसल हुई बर्बाद
  2. कई इलाकों में अभी भी फंसे हुए हैं लोग
  3. सेना कई इलाकों में चला रही है बचाव अभियान
नई दिल्ली: असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने बाढ़ प्रभावित बराक घाटी के तीन जिलों के लोगों के पुनर्विकास और उन्हें राहत पहुंचाने के लिए रविवार को 100 करोड़ रुपये के एक विशेष पैकेज की घोषणा की. गौरतलब है कि बराक घाटी के इन तीनों जिलों में स्थिति में अभी भी कुछ खास सुधार नहीं हुआ है. असम राज्य आपदा प्रबंधन अधिकरण (एएसडीएमए) की एक रिपोर्ट में बताया गया कि छह जिलों - धेमजी , लखीमपुर , होजई , कछर , करीमगंज और हेलाकंडी में करीब दो लाख लोग अब भी बाढ़ की मार झेल रहे हैं. एएसडीएमए ने बताया कि वर्तमान में 394 गांव पानी से घिरे हुए हैं और 3,100 हेक्टेयर की फसल को नुकसान पहुंचा है.

यह भी पढ़ें: असम में बाढ़ की वजह से तीन और की मौत, कई इलाकों में सुधरे हालात

गौरतलब है कि असम के कुछ इलाकों में बाढ़ का कहर अभी भी जारी है. स्थानीय प्रशासन के मुताबिक शुक्रवार को बाढ़ की वजह से तीन और लोगों की मौत की खबर है. इन तीन मौतों की वजह से बाढ़ में मरने वाले कुल लोगों की संख्या अब 24 हो गई है. असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएम) ने यह जानकारी दी. प्राधिकरण के अधिकारियों ने बताया कि अभी  भी राज्य के 5 जिलों में 3.67 लाख से अधिक लोग अब भी बाढ़ से प्रभावित हैं. एएसडीएम सूत्रों के अनुसार पिछले 24 घंटे में तीन व्यक्तियों की बाढ़जनित घटनाओं में जान चली गयी है.

यह भी पढ़ें: बाढ़ से पूर्वोत्तर भारत में अब तक 22 लोगों की मौत, मणिपुर ने केंद्र से मांगी मदद 

टिप्पणियां
कच्छार जिले के सदर और काटिगोरा में एक एक व्यक्ति जबकि करीमगंज जिले के नीलामबाजार में एक व्यक्ति की मौत हुई है. प्राधिकारण के मुताबिक इस साल बाढ़ के पहले दौर इसी के साथ इसी के साथ मरने वालों की संख्या 24 हो गयी है. उनमें वे तीन लोग भी शामिल हैं जो इस साल भूस्खलन के चलते मर गये थे.

VIDEO: पूर्वोत्तर के राज्यों में बाढ़ का कहर.

धेमाजी , होजाई , कच्छार , करीमगंज और हैलकांडी जिलों में 3.67 लाख से अधिक लोग प्रभावित हैं. सबसे अधिक करीमजगंज जिला प्रभावित है जहां 1.62 लोगों को बाढ़ की विभीषिका झेलनी पड़ी है.(इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement