हमारा एजेंडा भ्रष्‍टाचार बंद, विपक्ष का इरादा संसद बंद करने का : कानपुर रैली में पीएम नरेंद्र मोदी

हमारा एजेंडा भ्रष्‍टाचार बंद, विपक्ष का इरादा संसद बंद करने का : कानपुर रैली में पीएम नरेंद्र मोदी

कानपुर में परिवर्तन रैली को संबोधित करते पीएम नरेंद्र मोदी

कानपुर:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कानपुर के निराला नगर रेलवे ग्राउंड पर परिवर्तन रैली को संबोधित करते हुए कहा कि यूपी के युवाओं के हाथ में यदि कुशलता आ जाए तो वह देश की दशा-दिशा बदल सकता है. जिनके पास युवा शक्ति वे ताकत दिखा सकते हैं.

पीएम ने कहा, भारत आज भाग्‍यशाली है क्‍योंकि यहां की 65 प्रतिशत आबादी 35 साल से कम है. जो देश युवा हो, वो अपनी ताकत से दुनिया को अपना दम दिखा सकता है. लेकिन यह तभी संभव है जब उस युवा के हाथों में कुशलता हो. इसलिए देश भर में स्किल डेवलपमेंट की शुरुआत हुई.

विपक्ष लगातार चर्चा से भाग रहा है
उन्‍होंने कहा कि एक तरफ हम देश को भ्रष्‍टाचार से मुक्‍त कराने की लड़ाई लड़ रहे हैं. हमारा एजेंडा, भ्रष्‍टाचार, काला धन बंद करने का है. विपक्ष का इरादा देश की संसद को बंद करने का है. राष्‍ट्रपति के आह्वान के बावजूद चर्चा नहीं हुई. विपक्ष लगातार चर्चा से भाग रहा है. राजनैतिक स्‍वार्थ के लिए विपक्ष ने हंगामा किया है.

गलत लोगों को काले धन पर वार सहन नहीं हो रहा
उन्‍होंने कहा, देश इस वक्‍त दो हिस्‍सों में बंटा है. एक तरफ वो लोग हैं जो काला धन पर संसद बंद कर रहे हैं और दूसरी तरफ देश के ईमानदार लोग हैं. पिछली सरकार के पास देश चलाने की फुर्सत नहीं थी. जिनको गलत काम करने की आदत पड़ी है, उनको काले धन पर वार सहन नहीं हो रहा है.

यूपी के लोग अब गुंडागर्दी बर्दाश्‍त नहीं करेंगे
यूपी के मुद्दे पर पीएम मोदी ने कहा, 'पूरे प्रदेश में गुंडागर्दी हो रही है. सत्‍ता में बैठे लोग गुंडागर्दी को शह दे रहे हैं. राज्‍य में गुंडागर्दी चल रही है. अब लोग इनको बर्दाश्‍त नहीं करेंगे. अगले चुनाव में ऐसे लोग अपने बाहुबल का दम दिखाएंगे लेकिन ईमानदार लोग उनको चुनावों में धूल चटा देंगे.'

पीएम मोदी ने कहा कि यूरिया की नीमकोटिंग से सिंथेटिक दूध बनाने का गोरखधंधा खत्‍म हुआ. कुछ लोगों को लगता था कि बैंक में पैसे डालने से वह सफेद हो जाएंगे. लेकिन एक फैसले से ये सब बंद हो गया. अब देखिए दनादन काले धन के खुलासे हो रहे हैं. खूब लोगों को पकड़ा जा रहा है. अभी भी कुछ लोग ऐसे हैं जो बैंक अफसरों को खरीद सकते हैं. लेकिन ईमानदार प्रयासों से अच्‍छे-अच्‍छे लोगों का खेल खत्‍म हो जाएगा. यूपी के कई प्रधानमंत्री बने लेकिन यहां के 1500 गांवों में बिजली नहीं है. हमने गन्‍ना किसानों का बकाया दिलाया है. मैंने पहले कहा था कि 50 दिन के बाद कठिनाईयों कम होना शुरू हो जाएंगी. आज फिर से उस बात को दोहरा रहा हूं.

विपक्ष पर हमला बोलते हुए पीएम ने कहा कि ये लोग कहते हैं कि लोगों के पास बैंक खाता नहीं है. वहीं दूसरी तरफ कहते हैं कि बैंक की लाइन में लगे लोगों को पैसा नहीं मिल रहा है. आखिर विपक्ष बताए कि इनमें से सच क्‍या है. पहले ये कहते थे कि राजीव गांधी देश में कंप्‍यूटर लाए. अब मैं कहता हूं कि मोबाइल को बैंक बना लीजिए तो ये लोग कहते हैं कि मोबाइल हैं कहां.

पूरे देश में चुनाव एक साथ हों
क्‍यों न देश में लोकसभाओं, विधानसभाओं का चुनाव साथ-साथ हों. आए दिन गांवों में चुनाव के दौरान तनाव बढ़ जाता है. मैं चुनाव आयोग से अपील करता हूं कि आयोग इस बात को फिर से आगे बढ़ाए. सभी दलों से चर्चा शुरू करे. उसके बाद इस संबंध में प्रस्‍ताव लाया जाए.

काले धन पर वार
जिन्‍होंने लोगों को लूटा है, वे आज परेशानियां झेल रहे हैं. वे गरीबों से अपनी मदद करने का आग्रह कर रहे हैं. पहले सिर्फ 1000 और 500 के नोटों की पूछ थी. नोटबंदी के बाद 100 के नोट की ताकत बढ़ी. इसके साथ ही छोटे लोगों की पूछ बढ़ी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

'न खाता न बही जो केसरी कहे, वही सही'
उन्‍होंने कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि जब कांग्रेस के कोषाध्‍यक्ष सीताराम केसरी थे तो उस वक्‍त कांग्रेस राज के दौर में नारा दिया जाता था, 'न खाता न बही जो केसरी कहे, वही सही'. इसलिए ऐसे लोगों को नोटबंदी का फैसला रास नहीं आ रहा है. कांग्रेस ने जनता को कभी हिसाब नहीं दिया. भ्रष्‍टाचार ने मध्‍य वर्ग और गरीब को लूटा. इसके साथ ही हर पार्टी से हिसाब देने की मांग भी की.

उन्‍होंने सरकार की लकी ड्रॉ इनाम के बारे में भी बताया. इसके तहत व्‍यापारियों और ग्राहकों को भी इनाम मिलेगा. 100 दिनों में 15 हजार लोगों को एक हजार रुपये प्रति दिन मिलेंगे. 3 हजार से ज्‍यादा की खरीदी करने वालों को इनाम नहीं मिलेगा. सवा सौ करोड़ लोगों की ताकत के दम पर ऐसा किया जा सकना संभव हुआ है. उन्‍होंने अंत में कहा कि इतिहास उस पीएम को याद नहीं रखेगा जिसने भ्रष्‍टाचार और काला धन को खत्‍म करने के लिए यह अभियान चलाया बल्कि उन लोगों को याद रखेगा जिनके दम पर ऐसा संभव हुआ.