सेना को अफसरों और जवानों को सोशल मीडिया से हटने की सख्त हिदायत, एडवाइजरी जारी

आर्मी ने सभी अफसरों और जवानों को हिदायत दी गई है कि वे फेसबुक, इंस्टाग्राम सहित कुछ और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अपने एकाउंट डिलीट करें

सेना को अफसरों और जवानों को सोशल मीडिया से हटने की सख्त हिदायत, एडवाइजरी जारी

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

सेना ने अपने जवानों, अफसरों को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल नहीं करने की हिदायत दी है. सेना ने इसे लेकर एडवाइजरी जारी की है. एडवाइजरी के मुताबिक आर्मी ने सभी अफसरों और जवानों को हिदायत दी है कि वे फेसबुक, इंस्टाग्राम सहित कुछ और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अपने एकाउंट डिलीट करें. डीएक्टिवेट करने से काम नहीं चलेगा, एकाउंट डिलीट करना होगा.

15 जुलाई के बाद इसकी चेकिंग शुरू हो जाएगी कि जवानों, अफसरों ने आदेश का पालन किया है या नहीं. अगर प्रतिबंध के दायरे वाले सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर 15 जुलाई के बाद भी किसी अफसर या जवान का एकाउंट पाया गया, तो संबंधित यूनिट तुरंत इसकी जानकारी देगी और संबंधित फॉर्मेशन के इंटेलिजेंस के लोग इसकी जांच करेंगे.  यह फीड बैक फिर मिलिट्री इंटेलिजेंस तक भेजा जाएगा. 

बैन किए गए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक, इंस्टाग्राम के अलावा करीब 89 साइटें हैं. इसमें वी चैट, वाइबर, जूम, ट्रू कॉलर, पबजी, क्लब फैक्ट्री, टिंडर, डेली हंट, हंगामा शामिल हैं. व्हाट्सऐप, टेलिग्राम, सिग्नल, यू ट्यूब, ट्विटर, कोरा, लिंकडन का लिमिटेड इस्तेमाल किया जा सकता है पर सिर्फ जानकारी लेने के लिए. जवान अपनी तरफ से कुछ भी अपलोड नहीं कर सकेंगे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com