NDTV Khabar

उपचुनावों के नतीजों के बाद बोले नेता जी के प्रपौत्र, 'पश्चिम बंगाल में नहीं चलेगी देश में सफल रही रणनीति'

नेताजी के प्रपौत्र बोस ने इस हार के बाद आत्मविश्लेषण की अपील करते हुए कहा कि पार्टी को उपचुनाव के दौरान एनआरसी को अपना मुख्य चुनावी मुद्दा नहीं बनाना चाहिए था. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उपचुनावों के नतीजों के बाद बोले नेता जी के प्रपौत्र, 'पश्चिम बंगाल में नहीं चलेगी देश में सफल रही रणनीति'

बंगाल में काम नहीं करेगी अखिल-भारतीय रणनीति: चंद्र कुमार बोस

कोलकाता:

पश्चिम बंगाल में हुए विधानसभा उपचुनाव में तीनों सीटों पर बीजेपी को शिकस्त मिलने के एक दिन बाद पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष चंद्र कुमार बोस ने शुक्रवार को कहा कि भगवा पार्टी को अब राज्य विशेष के लिये योजना बनानी चाहिए क्योंकि 'विवेकानंद और नेताजी सुभाष चंद्र बोस की धरती पर अखिल भारतीय रणनीति काम नहीं करेगी'. नेताजी के प्रपौत्र बोस ने इस हार के बाद आत्मविश्लेषण की अपील करते हुए कहा कि पार्टी को उपचुनाव के दौरान एनआरसी को अपना मुख्य चुनावी मुद्दा नहीं बनाना चाहिए था. 

बंगाल उपचुनाव परिणाम : BJP ने कहा रणनीतिक चूक हुई, TMC ने कहा- अहंकार की हुई हार

उन्होंने पत्रकारों से कहा, 'भाजपा के लिए यह जरूरी है कि वह राज्य में संगठन को दुरुस्त करे और बंगाल पर केंद्रित रणनीति तैयार करे. हमें अपनी संगठनात्मक कमी को सुधारना होगा. अखिल-भारतीय रणनीति स्वामी विवेकानंद और नेताजी सुभाष चंद्र बोस की धरती पर कारगर नहीं होगी. बीजेपी के वरिष्ठ नेता ने कहा कि राजनीतिक दलों को राज्य में मूलभूत बुनियादी ढांचे का विकास करने के लिए काम करना चाहिए न कि वोट बैंक के लिए लोगों का ध्रुवीकरण करना चाहिए. 


पश्चिम बंगाल के राज्यपाल का दावा, ममता बनर्जी ने उनसे कहा -'तू चीज बड़ी है मस्त मस्त'

टिप्पणियां

गौरतलब कि बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने इस हफ्ते की शुरूआत में हुए विधानसभा उपचुनाव में सभी तीनों सीटों पर जीत हासिल कर ली. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपनी पार्टी को मिली जीत को राष्ट्रीय नागरिक पंजी(एनआरसी) के खिलाफ जनादेश करार दिया और इसे 'धर्मनिरपेक्षता एवं एकता' के पक्ष में आया फैसला बताया था. 

Video: उपचुनाव में तीनों सीटों पर TMC का कब्जा



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... पश्चिमी मीडिया के कवर पर क्यों बदली मोदी और भारत की छवि?

Advertisement