Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

1984 दंगों को लेकर राहुल गांधी की टिप्पणी पर सुखबीर सिंह बादल ने किया पलटवार, कही यह बात...

दो दिवसीय ब्रिटेन दौरे पर गए राहुल गांधी ने 1984 के सिख विरोधी दंगों को बेहद दुखद त्रासदी करार देते हुए कहा कि मेरे मन में उसके बारे में कोई भ्रम नहीं है. यह एक त्रासदी थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
1984 दंगों को लेकर राहुल गांधी की टिप्पणी पर सुखबीर सिंह बादल ने किया पलटवार, कही यह बात...

सुखबीर सिंह बादल ने किया राहुल गांधी पर हमला

नई दिल्ली:

शिरोमणि अकाली दल ने शनिवारो को 1984 के सिख विरोधी दंगों को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की टिप्पणी के लिये उन पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी के सिख विरोधी नरसंहार में शामिल होने के नजरिये से असहमति जताकर उन्होंने सिख समुदाय के जख्मों पर नमक छिड़क दिया है. वहीं कांग्रेस की पंजाब इकाई ने हालांकि गांधी की टिप्पणी का बचाव किया और अकालियों पर पलटवार करते हुए आरोप लगाया कि वे जानबूझ कर उनकी टिप्पणियों को तोड़मरोड़कर पेश कर रहे हैं.
 


इससे लोगों को ध्यान बरगरी में बेअदबी मामले और उसके बाद इसके खिलाफ कोटकापुरा में प्रदर्शन कर रहे निर्दोष सिखों की हत्या में उनकी भूमिका को लेकर हुए खुलासे से हटाया जा सके.

यह भी पढ़ें: केजरीवाल के लिए खतरे की घंटी, थम नहीं रहा 'AAP' उम्‍मीदवारों की जमानत जब्‍त होने का सिलसिला


टिप्पणियां

दो दिवसीय ब्रिटेन दौरे पर गए राहुल गांधी ने 1984 के सिख विरोधी दंगों को बेहद दुखद त्रासदी करार देते हुए कहा कि मेरे मन में उसके बारे में कोई भ्रम नहीं है. यह एक त्रासदी थी, यह एक दुखद अनुभव था. आप कहते हैं कि उसमें कांग्रेस पार्टी शामिल थी, मैं इससे सहमति नहीं रखता, निश्चित तौर पर हिंसा हुई थी, निश्चित तौर पर वह त्रासदी थी. कांग्रेस पर निशाना साधते हुए शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने आरोप लगाया कि गांधी उन कांग्रेसी नेताओं को बचाने की कोशिश कर रहे हैं जो इस ‘‘नरसंहार’’ में संलिप्त थे.

VIDEO: हरसिमरत कौर बादल ने आप पर बोला हमला.

बादल ने  संवाददाताओं से कहा कि राहुल गांधी ने सिख कौम के जख्मों पर यह कहकर नमक छिड़का है कि कांग्रेस 1984 के सिख विरोधी दंगों में शामिल नहीं थी. उन्होंने कहा कि यह सिख समुदाय को लेकर गांधी की सोच दर्शाती है. उन्होंने कहा कि मैं राहुल से पूछना चाहता हू कि अगर कांग्रेस नेता सिख विरोधी दंगों में शामिल नहीं थे तो फिर पार्टी नेताओं एचकेएल भगत, जगदीश टाइटलर और सज्जन कुमार के टिकट क्यों वापस लिये गए. मनमोहन सिंह के नेतृत्व वाली सरकार में जगदीश टाइटलर को मंत्रीपद से क्यों हटाया गया. (इनपुट भाषा से) 
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... सोनभद्र में 3000 टन सोने का भंडार मिलने पर GSI का चौंकाने वाला बयान

Advertisement