NDTV Khabar

सुनंदा पुष्कर की मौत का मामला: पटियाला हाउस कोर्ट की स्पेशल फास्ट ट्रैक कोर्ट में केस ट्रांसफर, 28 मई को सुनवाई

सुनंदा पुष्कर की मौत का मामला: सुनंदा पुष्कर मामले का केस पटियाला हाउस कोर्ट की स्पेशल फास्ट ट्रैक कोर्ट में ट्रांसफर किया गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सुनंदा पुष्कर की मौत का मामला: पटियाला हाउस कोर्ट की स्पेशल फास्ट ट्रैक कोर्ट में केस ट्रांसफर, 28 मई को सुनवाई

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

सुनंदा पुष्कर की मौत का मामला: सुनंदा पुष्कर मामले का केस पटियाला हाउस कोर्ट की स्पेशल फास्ट ट्रैक कोर्ट में ट्रांसफर किया गया. अब 28 मई को अगली सुनवाई होगी. चूंकि शशि थरूर सासंद हैं. इसलिए केस को स्पेशल फास्ट ट्रैक कोर्ट में ट्रांसफर किया गया है. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद पटियाला हाउस में स्पेशल फास्ट ट्रैक कोर्ट का गठन किया गया है. इसमें सांसदों और विधायकों के केसों की सुननाई होगी. सुप्रीम कोर्ट ने ऐसे मामलों मे एक साल के भीतर ट्रायल पूरा करने के निर्देश दिए हैं. 

सुनंदा पुष्कर की मौत मामले में  कांग्रेस नेता शशि थरूर पर दाखिल दिल्ली पुलिस की चार्जशीट पर पटियाला हाउस कोर्ट ने सुनवाई की. 14 मई को सुनंदा पुष्कर की मौत केस में दिल्ली पुलिस ने पटियाला हाउस कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की है. चार्जशीट को धारा 306 और 498ए के तहत दायर किया गया है. 

दिल्ली पुलिस ने सेक्शन 306 के तहत शशि थरूर पर सुनंदा को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया है. इसके अलावा घरेलू हिंसा या पत्नी के साथ क्रूरता की धारा 498ए का भी चार्जशीट में उल्लेख किया गया है. पुलिस ने यह चार्जशीट करीब चार साल के बाद फाइल की है. चार्जशीट के मुताबिक, थरूर संदेह के दायरे में हैं, लेकिन उनके खिलाफ पर्याप्त सबूत नहीं हैं. 


टिप्पणियां

बता दें कि सुनंदा पुष्‍कर की जनवरी, 2014 को दिल्‍ली के एक फाइव स्‍टार होटल के कमरे में मौत हो गई थी. इससे एक दिन पहले ही ट्विटर पर सुनंदा और पाकिस्‍तानी पत्रकार मेहर तरार के बीच नोक-झोंक हुई थी. तब मेहर और थरूर के बीच अफेयर की अटकलें लगने लगी थीं. घटना के एक साल बाद पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया था और सबूतों की तलाश में FBI से भी मदद ली थी. 

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement