NDTV Khabar

गैंगरेप मामले में सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट से कहा, जल्द से जल्द पूरी हो सुनवाई

पिछले साल 6 नवंबर को सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगाई थी. सुप्रीम कोर्ट ने पीड़िता की अर्जी पर आरोपी छात्रों से जवाब भी मांगा था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गैंगरेप मामले में सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट से कहा, जल्द से जल्द पूरी हो सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट की फाइल फोटो

खास बातें

  1. कॉलेज की छात्रा के साथ आरोपियों ने किया था गैंगरेप
  2. इस मामले में निचली अदालत के बाद हाईकोर्ट में की थी आरोपियों ने अपील
  3. सुप्रीम कोर्ट ने जल्द सुनवाई पूरी करने को कहा
नई दिल्ली: हरियाणा के जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी में हुए गैंगरेप मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट को विशेष आदेश दिया है. अपने आदेश में कोर्ट ने इस मामले की सुनवाई जल्द से जल्द कराने को कहा है. कोर्ट ने इस मामले को पांच महीने के भीतर ही निपटाने की बात भी की है. गौरतलब है कि इस मामले की सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने निचली अदालत द्वारा दी गई सजा को निलंबति कर दिया था. सुप्रीम कोर्ट ने भी हाईकोर्ट के इस आदेश को जारी रखने की बात कही है.

यह भी पढ़ें: दिल्‍ली सीलिंग: सुप्रीम कोर्ट 2 अप्रैल से रोजाना करेगा सुनवाई

हालांकि इस मामले के तीसरे आरोपी विकास गर्ग को सुप्रीम कोर्ट से राहत मिली है. वह अपील के दौरान जमानत पर बाहर रहेगा. वहीं मामले के दो अन्य आरोपी हार्दिक और करम मामले की सुनवाई पूरी होने तक जेल में ही रहेंगे. ध्यान हो कि पिछले साल 6 नवंबर को सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगाई थी. सुप्रीम कोर्ट ने पीड़िता की अर्जी पर आरोपी छात्रों से जवाब भी मांगा था. खास बात यह है कि हाईकोर्ट ने पिछले साल ही तीनों लॉ छात्रों की सजा पर रोक लगा दी थी. इन छात्रों को दो साल पहले कॉलेज में पढ़ने वाली छात्रा को ब्लैकमेल करने और उसके साथ गैंगरेप करने का दोषी पाया गया था.

यह भी पढ़ें: अयोध्या से आज शुरू होगी 'राम राज्य रथयात्रा', दो माह में छह राज्यों से गुजरेगी

इस मामले में निचली अदालत ने मुख्य आरोपी हार्दिक और उसके दोस्त करण को 20-20 साल की सजा सुनाई थी. वहीं इस मामले में शामिल तीसरे आरोपी विकास गर्ग को सात साल की सजा सुनाई गई थी. निजली अदालत से सजा का एलान होने के बाद तीनों ने हाईकोर्ट में अपील की थी.

टिप्पणियां
VIDEO: दिल्ली के रिहायशी इलाके में होगी सीलिंग


बाद में उन्होंने हाईकोर्ट में मामला लंबित होने की वजह से जमानत पर रिहा करने की मांग की थी. उनकी इस अर्जी को मंजूर करते हुए हाईकोर्ट ने उनकी सज़ा निलंबित कर दी ओर शर्त लगा दी कि इस दौरान तीनों देश छोडकर नहीं जाएंगे. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement