NDTV Khabar

पादरियों के रेप के मामलों में शामिल होने पर सुप्रीम कोर्ट हैरान

सुप्रीम कोर्ट ने रॉबिन वादककुमचेरी के मामले की सुनवाई के दौरान कहा- यह परेशान करने वाला ट्रेंड है

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पादरियों के रेप के मामलों में शामिल होने पर सुप्रीम कोर्ट हैरान

सुप्रीम कोर्ट.

खास बातें

  1. नाबालिग लड़की ने बलात्कार के बाद एक बच्चे को जन्म दिया
  2. आरोप को रद्द करने की मांग सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की
  3. सुप्रीम कोर्ट ने कहा आरोपियों को मुकदमे का सामना करना पड़ेगा
नई दिल्ली:

चर्च के पादरियों की रेप के मामले में संलिप्तता पर सुप्रीम कोर्ट ने हैरानी जताई है. सुप्रीम कोर्ट ने टिप्पणी की कि इस तरह के मामले सामने आने से हम हैरान हैं. कोर्ट ने कहा कि यह परेशान करने वाला ट्रेंड है.

सुप्रीम कोर्ट ने कहा एक के बाद एक ऐसे मामले सामने आ रहे हैं, जहां रेप के मामलों में चर्च के पादरियों के नाम हैं. ये क्या हो रहा है. सारे मामले केरला से आ रहे हैं.

यह भी पढ़ें : नन से रेप का मामला : पादरी ने केस वापस लेने के बदले कथित तौर पर जमीन, मकान और सुरक्षा की पेशकश की

सुप्रीम कोर्ट ने रॉबिन वादककुमचेरी के मामले की सुनवाई के दौरान यह टिप्पणी की. इस मामले में एक नाबालिग लड़की ने बलात्कार के बाद एक बच्चे को जन्म दिया. इस मामले में रेप के आरोपी पादरी का दोस्त जो चाइल्ड वेलफ़ेयर कमेटी का सदस्य था, खुद भी एक पादरी है. वह आरोप को रद्द करने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट आए थे.


टिप्पणियां

यह भी पढ़ें :  केरल : दुष्कर्म व लूट के आरोपी पादरी ने किया आत्मसमर्पण

सुप्रीम कोर्ट ने कहा आरोपियों को मुकदमे का सामना करना पड़ेगा.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement