सुप्रीम कोर्ट ने दी इजाजत, घर वापसी के दौरान जान गंवाने वाले श्रमिकों के परिजनों को बांटी जाए 25 लाख की राशि

पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने सगीर अहमद खान को मुंबई में फंसे मजदूरों को पूर्वी यूपी के संत कबीर नगर भेजने के लिए रेलवे टिकट का इंतज़ाम करने के लिए 25 लाख रुपए सुप्रीम कोर्ट रजिस्ट्री में सेक्रेटरी जनरल के पास जमा कराने की इजाज़त दी थी. 

सुप्रीम कोर्ट ने दी इजाजत, घर वापसी के दौरान जान गंवाने वाले श्रमिकों के परिजनों को बांटी जाए 25 लाख की राशि

प्रतीकात्‍मक फोटो

नई दिल्ली:

Covid-19 Pandemic: सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने मुंबई के वकील सगीर अहमद खान को 25 लाख रुपये की राशि यूपी के उन 5 परिवारों में बांटने की इजाजत दे दी है, जिनके सदस्‍यों को घर लौटने के दौरान जान गंवानी पड़ी है. मामला मुंबई में फंसे यूपी के संत कबीर नगर के मजदूरों (Migrant Worker) को वापस भेजने से संबंधित है. वकील सगीर अहमद ने सुप्रीम कोर्ट की रजिस्ट्री में 25 लाख रुपए जमा कराए थे.

पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने सगीर अहमद खान को मुंबई में फंसे मजदूरों को पूर्वी यूपी के संत कबीर नगर भेजने के लिए रेलवे टिकट का इंतज़ाम करने के लिए 25 लाख रुपए सुप्रीम कोर्ट रजिस्ट्री में सेक्रेटरी जनरल के पास जमा कराने की इजाज़त दी थी. खान ने याचिका दायर कर इसकी इजाज़त चाही थी क्योंकि वो सीएम या पीएम फंड में य राशि नहीं देकर खास तौर पर महाराष्ट्र में अपने गृह जिले के फंसे प्रवासी श्रमिकों को गांव वापस भेजने के लिए अपनी दान राशि का उपयोग चाहते हैं. बाद में सगीर ने कहा कि मज़दूर घर पहुंच गए हैं इसलिए यह पैसे यूपी के उन 5 परिवारों में बांट दिए जाएं, जिनके लोग लौटने के दौरान मर गए जिसकी सुप्रीम कोर्ट ने इजाज़त दे दी है. 

गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस के केसों की संख्‍या लागातर बढ़ती जा रही है. भारत में कोरोनावायरस से पीड़ितों की कुल तादाद तीन लाख के करीब पहुंच गई है. पिछले 24 घंटों में सबसे ज़्यादा 10,956 नए मरीज़ सामने आए हैं और एक दिन में सबसे ज़्यादा 396 मरीज़ काल के गाल में समा गए हैं. भारत में कुल मरीज़ों का आंकड़ा 2,97,535 हो गया है, जिनमें से 1,47,195 लोग ठीक होकर घर लौट चुके हैं, जिसकी बदौलत भारत में रिकवरी रेट 49.47 प्रतिशत हो गया है. इस वक्त देश में कुल 1,41,842 सक्रिय COVID-19 मामले हैं, और भारत में अब तक कुल 8,498 लोग COVID-19 का शिकार होकर जान गंवा चुके हैं.


 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com