NDTV Khabar

सुप्रीम कोर्ट ने वायु प्रदूषण के मुद्दे पर सरकार की खिंचाई की

सुप्रीम कोर्ट ने वायु प्रदूषण पर सख्ती दिखाते हुए सरकार को फटकार लगाई है. कोर्ट ने सरकार को हाईड्रोजन आधारित ईंधन प्रौद्योगिकी की व्यवहारिकता का आकलन करने का निर्देश दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. सुप्रीम कोर्ट ने सरकार की खिंचाई की
  2. कहा, प्रदूषण से पूरा उत्तर भारत परेशान
  3. सरकार ने रचनात्मक कदम नहीं उठाए
नई दिल्ली :

सुप्रीम कोर्ट ने वायु प्रदूषण पर सख्ती दिखाते हुए सरकार को फटकार लगाई है. कोर्ट ने सरकार को हाईड्रोजन आधारित ईंधन प्रौद्योगिकी की व्यवहारिकता का आकलन करने का निर्देश दिया है. सुप्रीम कोर्ट में CJI की अगुवाई वाली बेंच ने कहा कि हमारे विचार में, सरकार और अन्य हितधारकों द्वारा समस्या का समाधान खोजने के लिए बहुत कम रचनात्मक प्रयास किए गए हैं. पूरा उत्तर भारत, एनसीआर वायु प्रदूषण से पीड़ित है. देशवासियों के हित में हमने इस मुद्दे का संज्ञान लिया है. SC ने निर्देश दिया कि केंद्र जापान के हाइड्रोजन आधारित ईंधन तकनीक की व्यवहारिकता का आकलन करे. 

दिल्ली-एनसीआर में हवा फिर हुई जहरीली, कई इलाकों में AQI 500 के करीब पहुंचा 

टिप्पणियां

सुनवाई के दौरान एक वकील ने SC को बताया कि जापान के विशेषज्ञ हाइड्रोजन आधारित फ्यूल तकनीक विकसित कर रहे हैं जो भारत के वायु प्रदूषण की चिंताओं को हल कर सकता है. इसपर सुप्रीम कोर्ट ने जापानी विशेषज्ञों द्वारा प्रस्तुतियों पर विचार करने के लिए केंद्र को निर्देश दिया है. कोर्ट ने केंद्र सरकार को 3 दिसंबर तक हाइड्रोजन आधारित ईंधन तकनीक की व्यवहारिकता रिपोर्ट प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है.  


VIDEO: दिल्ली: 11-12 नवंबर को ऑड-ईवन में मिली थी छूट



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement