यमुना नदी प्रदूषण मामले में SC ने हरियाणा सरकार और प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड को नोटिस जारी किया

यमुना से जुड़े प्रदूषण मामले में SC ने वरिष्ठ वकील मीनाक्षी अरोड़ा को एमिक्स क्यूरी नियुक्त किया है. एमिकस क्‍यूरी अर्थात न्‍यायमित्र व्यावहारिक रूप से किसी पक्ष का प्रतिनिधित्व नहीं करता, बल्कि कोर्ट की मदद करता है.

यमुना नदी प्रदूषण मामले में SC ने हरियाणा सरकार और प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड को नोटिस जारी किया

यमुना नदी प्रदूषण मामले में SC में अगली सुनवाई मंगलवार को होगी (प्रतीकात्‍मक फोटो)

खास बातें

  • सुप्रीम कोर्ट ने मामले में लिया स्वत: संज्ञान
  • मीनाक्षी अरोड़ा को एमिक्स क्यूरी नियुक्‍त किया
  • अगली सुनवाई मंगलवार को होगी
नई दिल्ली:

Pollution in Yamuna river: यमुना नदी में प्रदूषण (Pollution in Yamuna) को लेकर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने स्वत: संज्ञान लिया है. SC ने इस संबंध में वरिष्ठ वकील मीनाक्षी अरोड़ा को एमिक्स क्यूरी (न्‍यायमित्र) नियुक्त किया है. एमिकस क्‍यूरी (Amicus curiae) अर्थात न्‍यायमित्र व्यावहारिक रूप से किसी पक्ष का प्रतिनिधित्व नहीं करता, बल्कि कोर्ट की मदद करता है. दिल्ली जल बोर्ड की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने हरियाणा सरकार और सेंट्रल प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड को नोटिस जारी किया.

केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में कहा- 'किसान आंदोलन में खालिस्तानी संगठनों की घुसपैठ'

दिल्ली जल बोर्ड का आरोप है कि हरियाणा से गंदा पानी आ रहा है, इसमें अमोनिया की मात्रा ज्यादा है जिससे कैंसर फैलने का खतरा है. इसके कारण पूरी दिल्ली को पानी की आपूर्ति नहीं की जा पा रही है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वह पूरी यमुना नदी में प्रदूषण पर स्वतः संज्ञान ले रहे हैं,मामले की अगली सुनवाई मंगलवार को होगी.

Newsbeep

झाग से भरी हुई है यमुना नदी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com