NDTV Khabar

पटाखों पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने के मुद्दे पर विचार करेगा सुप्रीम कोर्ट

सुप्रीम कोर्ट इस बात पर विचार करेगा कि क्या पटाखों के इस्तेमाल पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया जाना चाहिए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पटाखों पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने के मुद्दे पर विचार करेगा सुप्रीम कोर्ट

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट इस बात पर विचार करेगा कि क्या पटाखों के इस्तेमाल पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया जाना चाहिए.कोर्ट ने इस तथ्य पर गौर किया कि दीपावली के दौरान वायु प्रदूषण खतरनाक स्तर तक पहुंच जाता है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि त्योहारों के दौरान प्रदूषण के असामान्य रूप से उच्च स्तर तक पहुंच जाने की वजह से शहर में तकरीबन 20-25 फीसदी बच्चे श्वास से संबंधित समस्याओं से पीड़ित रहते हैं.

यह भी पढ़ें : दिल्ली में पटाखे की बिक्री पर बैन के बाद दुकानदारों ने दीं कुछ ऐसी प्रतिक्रियाएं

न्यायमूर्ति एके सीकरी और न्यायमूर्ति अशोक भूषण की पीठ ने कहा, 'क्या हमें समग्र दृष्टिकोण अपनाना चाहिए और प्रदूषण में योगदान देने वाली हर चीज पर प्रतिबंध लगाना चाहिए या अस्थायी दृष्टिकोण अपनाना चाहिए और केवल पटाखों पर प्रतिबंध लगाना चाहिए?' सुप्रीम कोर्ट ने इस पर भी गौर किया कि वायु प्रदूषण शिशुओं के लिए बेहद खतरनाक है और जहरीले पटाखे जलाए जाने से हवा की विषाक्तता बढ़ जाती है.

VIDEO : फिर घुला हवा में जहर, जानें लोग क्या कह रहे हैं


टिप्पणियां
एक पटाखा निर्माता की ओर से उपस्थित वरिष्ठ अधिवक्ता सीए सुंदरम ने तर्क दिया कि अध्ययन के अनुसार, पटाखों पर प्रतिबंध से वायु प्रदूषण पर काफी कम असर पड़ता है और इस मुद्दे पर वैज्ञानिक अध्ययन होना चाहिए. सुप्रीम कोर्ट ने मामले पर अगली सुनवाई की तारीख 8 अगस्त को निर्धारित की. शीर्ष अदालत ने पिछले साल अपने अभिभावक के माध्यम से तीन नाबालिगों द्वारा दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए सीमित अवधि के लिए पटाखों की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया था. दिवाली पर इस प्रतिबंध में ढील देने से भी इनकार कर दिया था.

(इनपुट : भाषा से भी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement