हाथरस केस में कल फैसला सुनाएगा सुप्रीम कोर्ट, इन तीन अहम मुद्दों को करेगा तय..

हाथरस कांड में एक जनहित याचिका दायर की गई है जिसमें जांच की निगरानी सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट के वर्तमान या रिटायर्ड जज से कराने की मांग की गई है.

हाथरस केस में कल फैसला सुनाएगा सुप्रीम कोर्ट, इन तीन अहम मुद्दों को करेगा तय..

सुप्रीम कोर्ट की तीन जजों की बेंच मंगलवार को हाथरस मामले में फैसला सुनाएगी

खास बातें

  • यह तय करेगा, मामले की निगरानी वह करे या हाईकोर्ट
  • मामले को दिल्‍ली ट्रांसफर किया जाए या नहीं
  • केंद्रीय बलों को पीडि़तों-गवाहों की सुरक्षा सौंपी जाए या नहीं
नई दिल्ली:

Hathras Case: उत्तर प्रदेश के हाथरस में कथित गैंगरेप केस और मौत के मामले (Hathras Case) में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) मंगलवार को फैसला सुनाएगा. CJI एसए बोबडे, जस्टिस एएस बोपन्ना और जस्टिस वी रामासुब्रमण्यम की बेंच इस मामले में फैसला सुनाएगी. सुप्रीम कोर्ट ये तय करेगा कि वह मामले की निगरानी करेगा या इलाहाबाद हाईकोर्ट को सौंपेगा, मामले का ट्रायल दिल्ली ट्रांसफर किया जाए या नहीं और पीड़ितों व गवाहों की सुरक्षा केंद्रीय बलों को दी जाए या नहीं.

पीड़िता धार्मिक रीति-रिवाजों के अनुसार अंतिम संस्कार की हकदार थी : हाईकोर्ट 

सुुप्रीम कोर्ट में पीड़ित परिवार ने अपील की है कि इस मामले का ट्रायल दिल्ली में हो. हाथरस कांड में एक जनहित याचिका दायर की गई है जिसमें जांच की निगरानी सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट के वर्तमान या रिटायर्ड जज से कराने की मांग की गई है. इस याचिका में कहा गया है कि यूपी में मामले की जांच और सुनवाई निष्पक्ष नहीं हो पाएगी, इसलिए इसे दिल्ली ट्रांसफर किया जाए.

हाथरस केस: सुप्रीम कोर्ट ने कहा, 'हाईकोर्ट को सुनवाई करने दें, हम यहां नजर रखने के लिए बैठे हैं'

 इससे पहले की सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट में उत्‍तर प्रदेश (Uttar Pradesh Government) यूपी सरकार ने बताया था कि पीड़ित परिवार और गवाहों की तीन स्तरीय सुरक्षा की जा रही है. सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को जवाब दाखिल कर योगी सरकार ने कहा कि पीड़ित परिवार और गवाहों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए तीन-स्तरीय सुरक्षा प्रदान की गई है.गौरतलब है कि हाथरस में 14 सितंबर को एक 20 साल की लड़की के साथ कथित तौर पर गैंगरेप हुआ था. उसको बेरहमी से टार्चर भी किया गया गया था. बाद में दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में उसने दम तोड़ दिया था. मामले को लेकर पूरे देश में जबर्दस्‍त रोष देखा गया था.

Newsbeep

हाथरस मामले की FSL रिपोर्ट पर सवाल उठाने वाले डॉक्टरों को हटाया गया

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com