सूरत के कोसांबा में सड़क किनारे सो रहे मजदूरों को ट्रक ने कुचला, 15 की मौत; PM ने जताया शोक

Surat Accident: सूरत के कोसांबा में सड़क किनारे सो रहे मजदूरों को डंपर ने कुचल दिया. इसमें 15 मजदूरों की जान चली गई. घायलों का अस्पताल में इलाज चल रहा है.

खास बातें

  • सूरत में डंपर ने सड़क किनारे सो रहे मजदूरों को कुचला
  • अब तक 15 लोगों की मौत
  • प्रधानमंत्री मोदी ने शोक व्यक्त किया
सूरत:

गुजरात के सूरत  (Surat) से एक दर्दनाक खबर सामने आ रही है. यहां एक डंपर ने मजदूरों को रौंद दिया, जिसमें कई लोगों की जान गई है. सूरत जिले के कोसांबा में सड़क किनारे सो रहे मजदूरों पर डंपर चढ़ने से15 मजदूरों की मौत हो गई है. हादसे में घायल अन्य मजूदरों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. यह सड़क दुर्घटना मंगलवार को तड़के सुबह सूरत से करीब 60 किलोमीटर दूर कोसांबा गांव के नजदीक हुई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने सूरत हादसे को दुखद बताया है.

सूरत पुलिस ने कहा कि 12 मजूदरों की मौके पर ही मौत हो गई जबकि आठ घायलों में से तीन की अस्पताल में इलाज के दौरान जान चली गई. अब तक कुल 15 मजदूरों की मौत हुई. पुलिस का कहना है कि सभी मृतक मजदूर हैं, जो राजस्थान के रहने वाले थे. मामले में और जानकारी की प्रतीक्षा की जा रही है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सूरत की घटना पर दु:ख जताया है. पीएम मोदी ने कहा कि सूरत में दुर्घटना की वजह से लोगों की जान जाना दुखद है. मेरी संवेदनाएं उनके परिवार के साथ हैं.  घायलों के जल्द से जल्द ठीक होने की कामना करता हूं." 

प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, "मृतकों के परिवारजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से दो-दो लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी जबकि घायलों को 50-50 हजार रुपये दिए जाएंगे.

हाल ही में राजस्थान में एक हादसे में 6 लोगों की मौत हो गई थी. राजस्‍थान के जालौर में शनिवार देर रात एक हादसे में बस में सवार कम से कम छह लोगों की मौत हो गई थी. यह हादसा उस समय हुआ जब एक बस बिजली के तारों से जा टकराई. बस में सवार तीन महिलाओं सहित 6 लोगों की जलने से मौत हो गयी जबकि तीस से अधिक यात्री घायल हो गए. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राजस्थान के राज्‍यपाल कलराज मिश्र व मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने हादसे पर दुख व्‍यक्‍त किया था.

एक अधिकारी के अनुसार बस में लगभग 40 लोग सवार थे. मृतकों के शव रविवार को उनके परिजनों को सौंप दिए गए. जिला प्रशासन ने हादसे में मारे गए लोगों के परिवार जनों को दो-दो लाख रुपये व घायलों को 50-50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता दी. 

Newsbeep

(भाषा और एएनआई के इनपुट के साथ)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com