NDTV Khabar

IAF ने जैश के आतंकी कैंपों को ध्वस्त करने के लिए लेजर गाइडेड बम का किया इस्तेमाल

पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत ने आतंकवादियों को मुंहतोड़ जवाब देते हुए उनकी कमर तोड़ दी है. पीओके के आतंकी कैंप पर (Air Strike On Terrorist Camp) हमले में वायुसेना ने लेज़र गाइडेड बम (Laser-Guided Bomb) का इस्तेमाल किया.

340 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
IAF ने जैश के आतंकी कैंपों को ध्वस्त करने के लिए लेजर गाइडेड बम का किया इस्तेमाल

IAF ने हमले के लिए लेज़र गाइडेड बम (Laser-Guided Bomb) का इस्तेमाल किया.

नई दिल्ली:

पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत ने आतंकवादियों को मुंहतोड़ जवाब देते हुए उनकी कमर तोड़ दी है. पीओके के आतंकी कैंप पर (Air Strike On Terrorist Camp) भारतीय वायुसेना (indian Air Force) ने हवाई हमला किया और उसके सारे कैंपों को तबाह कर दिया. सूत्रों ने बताया कि वायुसेना की इस बड़ी कार्रवाई में करीब 300 आतंकवादी मारे गए हैं और इसमें जैश सरगना मसूद अज़हर का बहनोई यूसुफ अज़हर भी मारा गया है जो इस कैंप को चला रहा था. वायुसेना ने हमले में लेज़र गाइडेड बम (Laser-Guided Bomb) का इस्तेमाल किया.

यह भी पढ़ें : 12 मिराज, 1000 किलो बम, 20 मिनट का ऑपरेशन और 300 आतंकी ढेर, 10 बड़ी बातें

बता दें कि डेढ़ मिनट में ही आतंकी गढ़ बालाकोट को वायुसेना ने पूरी तरह तबाह कर दिया. बालाकोट पर इंडियन एयर फोर्स मिराज से अटैकिंग समय महज डेढ़ मिनट का था और पूरी करवाई 20 मिनट का. इसमें विमानों का आना जाना शामिल है. बालाकोट वह जगह है जहां जब मुगल और अफगानियों ने भारत पर हमला किया था तो यही बेस बनाया था. बीच में जंगल है और चारों ओर खड़े पत्थरों का पहाड़ है. पक्की खुफिया जानकारी के आधार पर ही कार्रवाई की गई है. बता दें कि बालाकोट खैबर पख्तून का इलाका है. यह जगह एलओसी से हवाई सीमा करीब 60 किलोमीटर दूर है. पुलवामा आतंकी हमले के बाद लॉन्चिंग पैड से आतंकी पीछे आ गए थे.


यह भी पढ़ें : 12 मिराज, 1000 किलो बम, 20 मिनट का ऑपरेशन और 300 आतंकी ढेर, 10 बड़ी बातें

वायुसेना ने सोमवार देर रात की कार्रवाई
पुलवामा हमले का जवाब देने के लिए भारतीय वायुसेना ने सोमवार की देर रात 3.30 बजे (मंगलवार सुबह 3.30 बजे) के करीब भारतीय वायुसेना के 12 मिराज विमानों ने पीओके के पार जाकर आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के कैंपों पर हमला बोला. यह हमला पूरी तरह से सफल हुआ है. इस हवाई हमले में जैश के सभी आतंकी कैंप नष्ट हो गए. बताया यह भी जा रहा है कि इन कैंपों में लश्कर और हिज्बुल के भी कैंप शामिल थे. वायुसेना ने तीन आतंकी कैंप तबाह किए. इस हमले में करीब 1000 किलो बम का इस्तेमाल किया गया.  भारतीय वायुसेना का पूरा ऑपरेशन बमुश्किलन 20 मिनट चला और सारे विमान सुरक्षित लौट आए. कहीं खरोंच तक नहीं लगी.

यह भी पढ़ें : पाक PM इमरान खान ने अपने सशस्त्र बलों को 'हर हालात के लिए तैयार रहने' को कहा

भारत ने राजनयिकों से की मुलाकात
भारत ने पुलवामा हमले के बाद से ही अंतरराष्ट्रीय सुमदाय में पाकिस्तान को अलग-थलग करने के लिए भारत में मौजूद दुनिया भर के तमाम राजदूतों और राजनयिकों से मुलाकात की थी. मंगलवार को पीओके में वायुसेना की कार्रवाई के बाद भी भारत के विदेश मंत्रालय के अधिकारियों ने तमाम देशों के राजनयिकों को मिलने बुलाया और उन्हें हमले से जुड़ी जानकारी दी. सूत्रों के अनुसार इस मुलाकात के दौरान भारत ने उन तमाम देशों को यह बताया कि नॉन मिलिट्री एक्शन था. इसमें सिर्फ और सिर्फ आतंकी ठिकानों को निशाना बनाया गया है. 

टिप्पणियां

VIDEO: भारत का जैश के आतंकी ठिकानों पर हमला, मारे गए 300 से ज्यादा आतंकी!


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement