सुशांत सिंह राजपूत की मौत हत्‍या या आत्‍महत्‍या, जल्‍द हो सकता है खुलासा...

सुशांत सिंह राजपूत मामले में एम्स के डॉक्टरों की रिपोर्ट का इंतजार है. डॉ. सुधीर गुप्ता के नेतृत्व में डॉक्टरों की टीम जल्द ही विसरा और पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर अपनी राय देगी

सुशांत सिंह राजपूत की मौत हत्‍या या आत्‍महत्‍या, जल्‍द हो सकता है खुलासा...

Sushant Singh Rajput Case: सुशांत को उनके मुंबई स्थित निवास में मृत पाया गया था

खास बातें

  • AIIMS के डॉक्‍टरों की टीम विसरा-पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर देगी राय
  • CBI ने सेकंड ओपीनियन के लिए मांगी है एम्‍स के डॉक्‍टरों से मदद
  • मामले में 20 सितंबर को होनी है एम्‍स में मेडिकल बोर्ड की बैठक
मुंबई/नई दिल्‍ली:

Sushant Singh Rajput Case: बॉलीवुड एक्‍टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) मौत मामले में एम्स (AIIMS) के डॉक्टरों की रिपोर्ट का इंतजार है. डॉ. सुधीर गुप्ता के नेतृत्व में डॉक्टरों की टीम जल्द ही विसरा और पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर अपनी राय देगी उसके बाद ही इस मामले की दिशा तय होगी कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत हत्या है या आत्महत्या? गौरतलब है कि सुशांत सिंह की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कूपर अस्पताल के डॉक्टरों ने साफ लिखा है कि मौत फांसी के फंदे से लटकने से हुई. कलीना एफ़एसएल की विसरा रिपोर्ट में भी कोई जहर नही मिला लेकिन इसमें मृत्यु का समय नही लिखा होने की वजह से रिपोर्ट पर सवाल उठ गया है.

सुशांत की बहन श्वेता ने सोशल मीडिया से लिया ब्रेक, बोलीं- दर्द से उबरने की जरूरत है..

मामले की जांच कर रही सीबीआई (CBI) ने सेकंड ओपीनियन के लिए एम्स के डॉक्टरों की मदद मांगी है.20 सितंबर को एम्स में मेडिकल बोर्ड की बैठक होनी है, जिसमें सीबीआई की सीएफएसएल की फाइंडिंग और सीबीआई की एसआईटी जांच रिपोर्ट की समीक्षा होगी. इसके साथ ही विसरा रिपोर्ट ,पोस्टमार्टम रिपोर्ट और अब तक की जांच के हिसाब से मेडिकल बोर्ड फाइनल ओपीनियन देगा. जिसके बाद सीबीआई की टीम लीगल ओपनियन लेगी और फिर उसके अनुसार जांच की दिशा तय होगी.

सुशांत की मौत केस से जुड़े ड्रग्स मामले में 6 और गिरफ्तार

गौरतलब है कि सुशांत मौत मामले में जांच एजेंसी सीबीआई अभी तक 20 के करीब लोगों से पूछताछ कर चुकी है. मुख्य आरोपी रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) से चार बार पूछताछ की जा चुकी है. यही नहीं, सुशांत सिंह राजपूत के घर 2 बार रिक्रिएशन भी कर चुकी है लेकिन अभी तक कोई भी पुख्ता सुराग नही मिल पाया है. सीबीआई की एक टीम दिल्ली जा चुकी है. उधर, सुशांत मामले की अलग एंगल से जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय यानी ED को भी अभी तक मनी लॉन्ड्रिंग जांच में कुछ ठोस नही मिला है. सिर्फ एक करोड़ का ट्रांजेक्शन संदेहके घेरे में है जिसे वेरिफाई किया जा रहा है. साथ ही नारकोटिक्‍स कंट्रोल ब्‍यूरो (NCB) भी ED को एक पत्र लिखकर अब तक पकड़े गए 18 आरोपियों की PMLA के तहत जांच करने का आग्रह कर सकती है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

क्राइम रिपोर्ट इंडिया : सुशांत राजपूत की विसरा रिपोर्ट से खुलेगा राज