NDTV Khabar

जानें विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कांग्रेस सांसद शशि थरूर को सौंपी कौन सी अहम 'जिम्मेदारी'

1362 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जानें विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कांग्रेस सांसद शशि थरूर को सौंपी कौन सी अहम 'जिम्मेदारी'

सुषमा स्वराज ने शशि थरूर को पाकिस्तान के खिलाफ एक प्रस्ताव का ड्राफ्ट तैयार करने का आग्रह किया (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कुलभूषण को सजा सुनाए जाने पर संसद ने पाकिस्तान की एक सुर में निंदा की
  2. कुलभूषण को फांसी दी गई तो इसके गंभीर परिणाम सामने आएंगे : सुषमा
  3. सुषमा ने शशि थरूर से पाक के खिलाफ प्रस्ताव का ड्राफ्ट बनाने का आग्रह किया
नई दिल्ली: नौसेना के पूर्व अधिकारी कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान में मौत की सजा सुनाए जाने पर संसद ने एक सुर में पाकिस्तान की कड़ी निंदा की. सभी राजनीतिक दलों ने जाधव को सुरक्षित स्वदेश लाए जाने और संयुक्त राष्ट्र जैसे अंतरराष्ट्रीय मंचों पर पाकिस्तान को बेनकाब करने की मांग की. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कांग्रेस सांसद शशि थरूर से कहा कि इस मुद्दे पर प्रस्ताव तैयार करने में मदद करें, जिसे संसद के दोनों सदनों द्वारा स्वीकार किया जाएगा.

सुषमा स्वराज ने सोमवार को कुलभूषण को सजा सुनाए जाने पर दोनों सदनों में बयान देते हुए पाकिस्तान को चेतावनी दी. लोकसभा में अपना बयान पूरा करने के बाद सुषमा, थरूर के पास गईं और उनसे प्रस्ताव का ड्राफ्ट तैयार करने में मदद देने का आग्रह किया. थरूर ने सदन में अपनी पार्टी के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे से इस बारे में इजाजत मांगी और फिर खुशी-खुशी इस काम में मदद देने को राजी हो गए. थरूर ने NDTV से बात करते हुए कहा- यह एक ऐसा मामला है, जिसका हम सभी पर असर पड़ता है.'

पिछले साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2008 के मुंबई आतंकी हमलों के मास्टरमाइंड जकी उर रहमान लखवी को रिहा करने पर पाकिस्तान की निंदा करने के लिए शशि थरूर को ही बयान का ड्राफ्ट तैयार करने के लिए कहा था. संयुक्त राष्ट्र के पूर्व राजनयिक रह चुके शशि थरूर की मदद से मंगलवार को तैयार किए गए इस ड्राफ्ट में पाकिस्तान की सैन्य अदालत द्वारा कुलभूषण जाधव को मौत की सजा दिए जाने की निंदा की जाएगी और इस मामले को लेकर अंतरराष्ट्रीय जगत से कड़े शब्दों में बयान देने की मांग की जाएगी. हालांकि सुषमा स्वराज ने शाम को कांग्रेस सांसद से मदद लेने की मीडिया रिपोर्टों को कमतर करने के लिए कहा, हमारे मंत्रालय में प्रतिभा की कमी नहीं है. मुझे बेहद काबिल सचिवों की सहायता प्राप्त है.

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान को चेतावनी दी कि यदि पड़ोसी मुल्क में जासूसी के आरोप में गिरफ्तार किए गए भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को सुनाई गई मौत की सजा पर अमल होता है तो इसके गंभीर परिणाम सामने आएंगे और द्विपक्षीय संबंध प्रभावित होंगे. सुषमा ने कहा कि भारत सरकार जाधव को बचाने के हरसंभव तरीका अपनाएगी.

लोकसभा में शशि थरूर ने कहा कि पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय संधियों और कानूनों का उल्लंघन किया है. उन्होंने कहा कि भारत ने कभी नहीं चाहा कि पाकिस्तान के साथ संबंधों का अंतरराष्ट्रीयकरण किया जाए, लेकिन अब समय आ गया है कि भारत सरकार दुनिया को यह बताए कि कल को उनके किसी नागरिक के साथ भी पाकिस्तान यही बर्ताव कर सकता है. उन्होंने पाकिस्तान की इस हरकत को जिनेवा संधि का भी घोर उल्लंघन करार दिया.

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि केंद्र सरकार इस मामले में चुप क्यों बैठी है? उन्होंने कहा कि विदेश मंत्री को जाधव को बचाने की कोशिश करनी चाहिए, अन्यथा यह भारत की कमजोरी साबित होगा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement