NDTV Khabar

कुलभूषण जाधव के परिवार से हुए सलूक पर खफा है भारत, कल संसद में बयान देंगी सुषमा स्वराज

सोमवार को पाकिस्तान में कुलभूषण जाधव के साथ उनके परिवार की हुई मुलाक़ात के मुद्दे पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज कल संसद के दोनों सदनों में बयान देंगी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कुलभूषण जाधव के परिवार से हुए सलूक पर खफा है भारत,  कल संसद में बयान देंगी सुषमा स्वराज

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कुलभूषण जाधव के परिवार से हुए सलूक पर खफा है भारत,
  2. कल संसद में बयान देंगी सुषमा स्वराज
  3. सुषमा स्वराज पहले राज्यसभा फिर लोकसभा में बोलेंगी
नई दिल्ली: सोमवार को पाकिस्तान में कुलभूषण जाधव के साथ उनके परिवार की हुई मुलाक़ात के मुद्दे पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज कल संसद के दोनों सदनों में बयान देंगी. प्राप्त जानकारी के मुताबिक़, गुरूवार सुबह 11 बजे सुषमा स्वराज  पहले राज्यसभा में बोलेंगे फिर 12 बजे लोकसभा में बोलेंगी. मुलाक़ात के दौरान पाकिस्तान के सलूक पर सवाल उठाते हुए और नाराज़गी जताते हुए विदेश मंत्रालय पहले ही अपनी प्रतिक्रिया दे चुका है. लेकिन इस समय संसद का सत्र चल रहा है, इसलिए विदेश मंत्री सदन को इस पूरे मामले की जानकारी देंगी. 

यह भी पढ़ें: 'आपका बेटा कातिल है' - कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी को पाक मीडिया ने किया परेशान

जिस तरह से पाकिस्तान ने हर एक लम्हे और तौर तरीके में चालाकी की है. भारत ने उसकी कड़ी मज़म्मत की है और कहा है कि इस मुलाक़ात के दौरान पूरा माहौल संदेह पैदा करने वाला था और कुलभूषण जाधव बहुत ही तनावपूर्ण मनोदशा में थे. भारत ने पाकिस्तान को चेताया है कि वो इससे जुड़े किसी भी पहलू का गलत इस्तेमाल करने की कोशिश करेगा तो ठीक नहीं होगा. इस बीच पाकिस्तान ने जाधव की पत्नी के जूते न लौटाए जाने को लेकर हास्यास्पद दलील पेश की है. पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फ़ैसल ने कहा है कि जूते में कोई मेटल लगा था और इस बात की जांच की जा रही है कि क्या वो कोई रिकॉर्डिंग डिवाइस था. 

यह भी पढ़ें: EXCLUSIVE : केंद्रीय मंत्री किरेन रिजीजू बोले, पाकिस्तान अपनी नीचता के लिए जाना जाता है

पाकिस्तान की ये दलील अपने कृत्य को सही ठहराने की कोशिश है, क्योंकि पाकिस्तान की ज़मीन पर मिलने गए परिवार की तरफ़ से इस तरह की कोई कोशिश बिल्कुल बेबुनियाद है. परिवार के साथ हुए सलूक पर सरकार के साथ-साथ तमाम विपक्षी पार्टियां भी खासी नाराज़ हैं. सभी ने एक स्वर में कहा है कि पाकिस्तान से इससे बेहतर की उम्मीद करना बेकार है. उसने एक ऐसा मौक़ा खो दिया है, जहां आपसी भरोसा और बहाली की दिशा में एक अहम क़दम उठाए जा सकता था.

VIDEO: पाकिस्तान का रवैया खेदपूर्ण: भारत
पाकिस्तान की तरफ़ से लगातार हो रहे सीजफायर का उल्लंघन, सैनिकों पर हमले और सीमा पार से जारी आतंकवाद को लेकर तमाम विपक्षी पार्टियां चाहती हैं कि प्रधानमंत्री साफ करें कि पाकिस्तान को लेकर नीति क्या है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement