स्वच्छ भारत उपकर लागू, आज से रेस्तरां में खाना और फोन करना हुआ महंगा

स्वच्छ भारत उपकर लागू, आज से रेस्तरां में खाना और फोन करना हुआ महंगा

नई दिल्ली:

आज से आपकी जेब और ढीली होने जा रही है। जी हां, करयोग्य सेवाओं पर रविवार से 0.5 प्रतिशत का स्वच्छ भारत उपकर लागू होगा। इस उपकर से यात्रा करने, रेस्तरां में खाने और फोन का उपयोग करने पर आपको ज्यादा रुपए खर्च करने पड़ेंगे। वहीं इससे सरकार को वित्त वर्ष के बचे हुए महीनों में 3,800 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त होगा।

इस उपकर के लागू होने पर सभी करयोग्य सेवाओं पर सेवा कर की दर 14 से बढ़कर 14.5 प्रतिशत हो जाएगी। राजस्व सचिव हसमुख अधिया के अनुसार सरकार को स्वच्छ भारत उपकर से पूरे साल में 10,000 करोड़ रुपये जुटने की उम्मीद है। ऐसे में चालू वित्त वर्ष के शेष महीनों यानी 31 मार्च, 2016 तक सरकार के खजाने में इस स्वच्छ उपकर से 3,800 करोड़ रुपये जमा होंगे।

स्वच्छ भारत उपकर करयोग्य सेवाओं के एक हिस्से पर ही लगाया जाएगा। इससे जुटने वाली राशि का इस्तेमाल साफ-सफाई अभियान में किया जाएगा। यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी योजना है।

आधा प्रतिशत के स्वच्छ भारत उपकर से रेस्तरां बिलों पर सेवा कर 5.6 प्रतिशत से बढ़कर 5.8 प्रतिशत हो जाएगा। इस उपकर से प्रत्येक 100 रुपये की करयोग्य सेवा पर 50 पैसे का कर लगेगा।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उपकर के प्रावधानों को स्पष्ट करते हुए मंत्रालय ने कहा कि इसकी गणना कम मूल्य या सेवा कर (मूल्य के निर्धारण) नियम, 2006 से निकले मूल्य के हिसाब से की जाएगी। इसमें कहा गया है कि एसी रेस्तरां में यह उपकर कुल बिल राशि के 40 प्रतिशत पर लगेगा। इस तरह इसकी दर कुल बिल राशि पर 0.2 प्रतिशत ही बैठेगी।

वित्त मंत्री अरण जेटली ने 2015-16 के बजट में जरूरत होने पर सभी या कुछ सेवाओं पर स्वच्छ भारत उपकर लगाने का प्रस्ताव किया था।