Khabar logo, NDTV Khabar, NDTV India

फिर पिटे विवादित स्वामी ओम, नाथूराम गोडसे जयंती में थे मुख्य अतिथि

हमेशा विवादों में छाए रहने वाले और खुद को संन्यासी कहने वाले स्वामी ओम शुक्रवार को एक कार्यक्रम में भीड़ के हत्थे चढ़ गए और भीड़ ने उनकी जमकर धुनाई कर दी. इतनी ही नहीं स्वामी की कार में भी तोड़फोड़ की.

ईमेल करें
टिप्पणियां
फिर पिटे विवादित स्वामी ओम, नाथूराम गोडसे जयंती में थे मुख्य अतिथि

स्वामी ओम पर पुलिस में कई मामले दर्ज हैं, वे हमेशा विवादों में रहते हैं (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: हमेशा विवादों में छाए रहने वाले और खुद को संन्यासी कहने वाले स्वामी ओम शुक्रवार को एक कार्यक्रम में भीड़ के हत्थे चढ़ गए और भीड़ ने उनकी जमकर धुनाई कर दी. इतनी ही नहीं स्वामी की कार में भी तोड़फोड़ की.

दिल्ली के थाना रणहौला इलाके के विकास नगर स्थित सत्यम वाटिका में नाथूराम गोडसे जयंती का कार्यक्रम रखा गया था जिसमें बिगबॉस सीजन-10 के स्वामी ओम बाबा को बुलाया गया था. स्वागत के लिए जैसे ही बाबा को मंच पर बुलाया गया तो भीड़ में कुछ लोग भड़क गए. उनका कहना था कि गोडसे जैसी महान हस्ती के जयंती पर ऐसे पाखंडी बाबा को बुलाकर उनका अपमान किया है.

कुछ लोगों के विरोध जताते ही चारों ओर से स्वामी के खिलाफ आवाज उठने लगी और देखते ही देखते स्वामी ओम पर भीड़ टूट पड़ी और लात घूसों की बरसात कर दी. इतना ही नही स्वामी ओम अपनी कार में सवार होकर जब वहां से जाने लगे तो लोगों ने उनकी गाड़ी को चारों तरफ से घेर लिया और उनकी गाड़ी पर हमला कर दिया. उनकी कार का शीशा भी तोड़ दिया. इस हमले में कार ड्राइवर भी घायल हो गया.

इससे पहले इसी वर्ष 14 जनवरी को भी एक निजी चैनल के कार्यक्रम के दौरान लोगों ने स्‍वामी ओम की पिटाई कर दी थी. तब नोएडा में एक चैनल के कार्यकम के दौरान स्‍वामी ओम की टिप्‍पणी से दर्शक इतना भड़क गए कि उन्‍होंने हाथापाई शुरू कर दी. हुआ कुछ यूं था कि किसी मुद्दे पर बहस के दौरान स्‍वामी ओम ने एक महिला दर्शक से बहुत बदतमीजी से बात की थी जिसके बाद ये सब हुआ.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement