NDTV Khabar

जब एक स्‍वामी ने की नीतीश की पीएम उम्‍मीदवारी की वकालत, मंच पर खुद मुख्‍यमंत्री थे मौजूद

कार्यक्रम के बाद नीतीश कुमार स्वामी के बयान पर कुछ भी बोलने से बचते दिखे... लेकिन साझा विपक्ष के एक नेता की तलाश के इस दौर में ये एक सनसनीखेज दख़ल लगता रहा.

2483 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जब एक स्‍वामी ने की नीतीश की पीएम उम्‍मीदवारी की वकालत, मंच पर खुद मुख्‍यमंत्री थे मौजूद

बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: नीतीश कुमार में प्रधानमंत्री बनने की क्षमता है और ज़रूरत पड़ने पर उन्हें इसके लिए तैयार रहना पड़ेगा. दिल्ली में एक सार्वजनिक कार्यक्रम में नीतीश कुमार की मौजूदगी में धार्मिक नेता स्वामीश्री अविमुक्तेशवरानंदजी ने ये बयान देकर सबको चौंका दिया है. स्वामीश्री अविमुक्तेशवरानंदजी ने कहा, 'नीतीश जी ने कहा है कि उनमें पीएम बनने की क्षमता नहीं है. लेकिन ज़रूरत पड़ेगी तो आपको पीएम बनना पड़ेगा. आप वो व्यक्तित्व हैं जिससे देश को आशा है.' बात गंगा की गाद पर हो रही थी, मगर स्वामी अविमुक्तेशवरानंद ने सियासत का ज़िक्र छेड़ दिया. नीतीश के बगल में बैठ कर उन्हें प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बता डाला. मंच पर ही कांग्रेस नेता जयराम रमेश की मौजूदगी में.

सोमवार को ही नीतीश ने पटना में मीडिया से बातचीत में कहा था कि उनमें प्रधानमंत्री बनने की क्षमता नहीं है. स्वामीश्री अविमुक्तेशवरानंदजी ने गुरुवार को नीतीश के बारे में आगे बढ़ते हुए ये भी कहा, 'आप में अच्छे नेता के गुण हैं. आपका नेतृत्व देश को दिशा दे सकता है. आपको देश के लिए उपलब्ध रहना होगा.'

कार्यक्रम के बाद नीतीश कुमार स्वामी के बयान पर कुछ भी बोलने से बचते दिखे... लेकिन साझा विपक्ष के एक नेता की तलाश के इस दौर में ये एक सनसनीखेज दख़ल लगता रहा. गंगा नदी में बढ़ते गाद पर कार्यक्रम में नीतिश के ठीक बगल में बैठे धार्मिक नेता का बयान सवाल खड़े करता है. ऐसे वक्त पर जब विपक्षी दलों को एकजुट करने की जद्दोजहद जारी है और ये सवाल उठ रहा है कि विपक्ष अगर एकजुट होते हैं तो उसका नेतृत्व कौन करेगा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement