काला धन वापस लाने के लिए कर रहे हैं कड़ी कार्रवाई : वेंकैया नायडू

काला धन वापस लाने के लिए कर रहे हैं कड़ी कार्रवाई : वेंकैया नायडू

वेंकैया नायडू (फाइल फोटो)

हैदराबाद:

केंद्रीय मंत्री एम वेंकैया नायडू ने कहा कि ‘गलत तरीके से अर्जित धन’ का पता लगाने के लिए केंद्र कड़े उपाय कर रहा है। उन्होंने विपक्ष की इन आलोचनाओं को खारिज कर दिया कि राजग सरकार विदेशों में जमा काला धन वापस लाने में सफल नहीं हो पा रही है जैसा कि उसने 2014 के लोकसभा चुनावों के दौरान वादा किया था।

संसदीय मामलों के मंत्री ने दावा किया कि कांग्रेस के शासनकाल के दौरान हुई अंतरराष्ट्रीय संधियां काला धन वापस लाने की राह में बाधा बन रही हैं क्योंकि उनमें गोपनीयता की शर्तें हैं।

कांग्रेस शासनकाल की संधियां बाधक
नायडू ने यहां एक साक्षात्कार में कहा, ‘देखिए हमने कौन से कदम उठाए हैं। कांग्रेस के शासनकाल के दौरान हुई संधियां काला धन वापस लाने की राह में बाधा बन रही हैं। अंतरराष्ट्रीय संधियां.. उनमें गोपनीयता की शर्तें हैं.. इन पर उनके (कांग्रेस) शासनकाल में सहमति बनी थी। हम उस पर काम कर रहे हैं।’ उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री (नरेन्द्र मोदी) ने खुद ही यह मामला जी-20 शिखर सम्मेलन में उठाया और फिर कड़े कानून बनाए गए हैं। आलोचना होने लगी कि काला धन पर काफी कड़ा कानून बनाया गया है।’

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

व्यवस्था में भ्रष्टाचार से जमा होता है काला धन
नायडू ने आरोप लगाया कि कांग्रेस नीत सरकार ने काला धन विदेशों में जमा किए जाने के समय कोई कार्रवाई नहीं की। उन्होंने कहा, ‘स्मार्ट लोगों ने धन गबन किया और गलत तरीके से प्राप्त धन विदेशों में जमा करा दिया।’ उन्होंने कहा, ‘काला धन अंदरूनी और बाहरी दोनों तरीके से जमा किया गया। व्यवस्था में भ्रष्टाचार से काला धन पैदा होता है। कोयला और स्पेक्ट्रम आवंटन में हमने पारदर्शिता बरती। 3 . 10 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा की बचत की गई।’

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है)