क्षमता के अनुरूप भरी बोगियों के साथ 130 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ी टैल्गो

क्षमता के अनुरूप भरी बोगियों के साथ 130 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ी टैल्गो

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

खास बातें

  • 180 किलोमीटर की स्‍पीड के साथ भारत में रिकॉर्ड बना चुकी है टैल्‍गो ट्रेन
  • अगले चरणों में भरी हुई ट्रेन की गति धीरे धीरे बढ़ाई जाएगी
  • बार्सीलोना से पोत के जरिए मुंबई लाए गए टैल्गो के डिब्बे
मथुरा:

तेज गति से चलने वाली टैल्गो ट्रेन का परीक्षण इसकी क्षमता के अनुरूप भरी बोगियों के साथ शनिवार को मथुरा और पलवल रेलवे स्टेशनों के बीच किया गया और इस दौरान ट्रेन ने अधिकतम 130 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से यात्रा पूरी की।

इससे पहले, 14 जुलाई को परीक्षण के दौरान स्पेन की टैल्गो ट्रेन ने खाली बोगियों के साथ 180 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से यात्रा पूरी की थी। इसमें बोगियों में बालू से भरी बोरियां रखी गई थीं। अतिरिक्त मंडलीय रेल प्रबंधक (एडीआरएम) आगरा, दिलीप सिंह ने कहा, ‘‘यात्री का औसत वजन 70 किलोग्राम लिया गया। भरी हुई ट्रेन ने इस परीक्षण के दौरान 130 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से यात्रा पूरी की।’’

उन्होंने कहा कि भरी हुई ट्रेन की गति धीरे धीरे बढ़ाई जाएगी। 4500 हॉर्सपावर डीजल इंजन वाली टैल्गो ट्रेन के डिब्बे हल्के हैं। इस ट्रेन में दो एक्जीक्यूटिव क्लास के डिब्बे, चार कुर्सीयान, एक कैफेटेरिया, एक पावर कार है। इसके अलावा, इसमें कर्मचारियों एवं उपकरण के लिए एक डिब्बा है। बार्सीलोना से पोत के जरिए लाए गए टैल्गो के डिब्बे 21 अप्रैल को मुंबई बंदरगाह पर उतारे गए।

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com