NDTV Khabar

तारकेश्वर मंदिर प्रकरण: CM ममता ने दिया आश्वासन, अब कोर्ट नहीं जाएंगे स्वामी

भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा हस्तक्षेप नहीं करने के पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के ‘‘आश्वासन’’ के बाद इस मामले में उन्होंने अदालत जाने का विचार छोड़ दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तारकेश्वर मंदिर प्रकरण: CM ममता ने दिया आश्वासन, अब कोर्ट नहीं जाएंगे स्वामी

फाइल फोटो

खास बातें

  1. अब कोर्ट नहीं जाएंगे स्वामी
  2. CM ममता ने दिया आश्वासन के बाद कही यह बात
  3. तारकेश्वर मंदिर का है मामला
कोलकाता:

भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने आज कहा कि हुगली स्थित तारकेश्वर मंदिर की धार्मिक गतिविधियों में हस्तक्षेप नहीं करने के पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के ‘‘आश्वासन’’ के बाद इस मामले में उन्होंने अदालत जाने का विचार छोड़ दिया है. राज्य सभा सांसद ने दावा किया, “ मैं यहां राजनीतिक दौरे पर नहीं था मैं तारकेश्वर मंदिर विवाद को लेकर ममता बनर्जी से मिलने आया था. 

यह भी पढ़ें: BJP नेता मुकुल रॉय का रिश्तेदार नौकरी के नाम पर ठगी के आरोप में गिरफ्तार

टिप्पणियां

उन्होंने आश्वासन दिया है कि पश्चिम बंगाल सरकार की तरफ से कोई भी तारकेश्वर मंदिर या राज्य के किसी भी मंदिर की धार्मिक गतिविधियों में हस्तक्षेप नहीं करेगा.”  स्वामी ने मुख्यमंत्री के साथ बैठक के बाद सचिवालय में संवाददाताओं से कहा कि मुख्यमंत्री ने कहा है कि सिर्फ मंदिर का न्यास बोर्ड ही मंदिर के धार्मिक गतिविधियों को देखेगा. 


VIDEO: मिशन 2019 : क्या ममता बनर्जी की कोशिशें रंग लाएंगी?
जून, 2017 को तब यह विवाद उत्पन्न हो गया था जब मुख्यमंत्री ने राज्य शहरी विकास मंत्री फिरहाद हकीम को तारकेश्वर विकास बोर्ड का अध्यक्ष बना दिया था, जिसका गठन करीब 300 साल पुराने मंदिर की देखरेख के लिए किया गया था.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement