उधर चंद्रबाबू नायडू यूरोप छुट्टियां मनाने रवाना हुए, इधर BJP में शामिल हो गए टीडीपी के 4 सांसद

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चंद्रबाबू नायडू (Chandrababu Naidu) परिवार के साथ यूरोप में छुट्टियां मना रहे हैं. वे एक दिन पहले ही पत्नी भुवनेश्वरी, बेटे लोकेश, दामाद ब्राम्हणी और पोते देवांश के साथ हैदराबाद से यूरोप के लिए रवाना हुए थे.

उधर चंद्रबाबू नायडू यूरोप छुट्टियां मनाने रवाना हुए, इधर BJP में शामिल हो गए टीडीपी के 4 सांसद

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चंद्रबाबू नायडू (Chandrababu Naidu) यूरोप में छुट्टियां मना रहे हैं.

खास बातें

  • चंद्रबाबू नायडू यूरोप में छुट्टियां मना रहे हैं
  • एक दिन पहले ही यूरोप के लिए हुए थे रवाना
  • 26 जून को उन्हें वापस आना है
नई दिल्ली :

लोकसभा चुनाव में करारी शिकस्त का सामना करने वाले चंद्रबाबू नायडू (Chandrababu Naidu) को एक और झटका लगा है. आंध्र के सीएम की कुर्सी गंवाने के बाद अब उनके करीबी साथ छोड़ने लगे हैं. आज TDP के छह में से 4 राज्यसभा सांसदों ने राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू को अपना इस्तीफा सौंप दिया है. टीडीपी के टीजी वेंकटेश, वाईएस चौधरी, सीएम रमेश और जीएम राव ने अपना इस्तीफा दिया है और उन्होंने बीजेपी में शामिल होने की घोषणा की है. जानकारी के मुताबिक टीडीपी में यह उठापटक तब हुआ जब पार्टी  प्रमुख चंद्रबाबू नायडू देश से बाहर हैं.  

In Setback For Chandrababu Naidu, 4 Lawmakers Of His Party Join BJP

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चंद्रबाबू नायडू परिवार के साथ यूरोप में छुट्टियां मना रहे हैं. वे एक दिन पहले ही पत्नी भुवनेश्वरी, बेटे लोकेश, दामाद ब्राम्हणी और पोते देवांश के साथ हैदराबाद से यूरोप के लिए रवाना हुए थे. बताया जा रहा है कि चंद्रबाबू नायडू को 26 जून को वापस लौटना था. इसी बीच उन्हें बड़ा झटका लगा और राज्यसभा के चार सदस्यों ने उनका साथ छोड़ दिया है. चारों सदस्यों ने बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा (JP Nadda) के साथ चारों टीडीपी सांसदों ने सभापति के पास जाकर अपना इस्तीफा सौंपा. टीडीपी सांसदों ने एक प्रस्ताव पारित कर राज्यसभा में टीडीपी को बीजेपी में विलय कर दिया जाए.  

चंद्रबाबू नायडू को झटका, TDP के तीन राज्यसभा सांसदों ने पार्टी से दिया इस्‍तीफा, BJP में होंगे शामिल

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बता दें कि चार सदस्यों का समर्थन मिलने से उच्च सदन में बहुमत के संकट से जूझ रही भारतीय जनता पार्टी को राहत मिलेगी. भाजपा की अगुवाई वाले राजग के पास राज्यसभा में फिलहाल बहुमत नहीं है. आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू की अध्यक्षता वाली टीडीपी के राज्यसभा में छह सदस्य हैं और दलबदल विरोधी कानून के मुतबिक किसी दल से अलग हुए नए गुट को तभी मान्यता मिलेगी, जबकि उसके दो तिहाई सदस्य इस गुट में शामिल हों. राज्यसभा की कुल सदस्य संख्या 245 है. उच्च सदन में सर्वाधिक 71 सदस्यों के साथ भाजपा सबसे बड़ी पार्टी है.

VIDEO: लोकसभा में बहुमत, लेकिन राज्यसभा का नंबर गेम बीजेपी को कर रहा है परेशान