तेजस्वी यादव की सुशील मोदी को चुनौती- साबित करें कि 9 हजार से ज्यादा टेस्ट हुए तो राजनीति से ले लूंगा संन्यास

इस साल के अंत में बिहार में विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं. चुनाव को देखते हुए राजनीतिक बयाानबाजी भी तेज होती जा रही है. राज्य में कोरोना टेस्टिंग एक राजनीतिक मुद्दा बनता जा रहा हैं.

तेजस्वी यादव की सुशील मोदी को चुनौती- साबित करें कि 9 हजार से ज्यादा टेस्ट हुए तो राजनीति से ले लूंगा संन्यास

तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

पटना:

इस साल के अंत में बिहार में विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं. चुनाव को देखते हुए राजनीतिक बयाानबाजी भी तेज होती जा रही है. राज्य में कोरोना टेस्टिंग एक राजनीतिक मुद्दा बनता जा रहा हैं. ताजा विवाद अमिताभ कांत के ट्वीट के बाद सामने आया है. नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) अमिताभ कांत ने एक ट्वीट कर कहा था कि बिहार में कम टेस्टिंग हो रही है जो चिंता का विषय है. अमिताभ कांत के बयान पर उप मुख्य मंत्री सुशील मोदी ने एक ट्वीट कर दावा किया कि बिहार में हर दिन नौ हज़ार से ज़्यादा जांच करायी जा रही हैं.

सुशील मोदी के दावे पर विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर उन्हें चुनौती दे डाली. तेजस्वी यादव ने चुनौती देते हुए यहां तक कह डाला कि आप साबित कर दीजिए हम राजनीति से सन्यास ले लेंगे. तेजस्वी ने ट्वीट किया, 'आदरणीय सुशील जी, सफ़ेद झूठ और गुमराह करना आपका व्यक्तित्व और ख़ानदानी संस्कृति रही है. लेकिन भगवान के लिए इस महामारी में फर्ज़ी दावा न करें. चुनौती है कि आप साबित करें 7 मार्च से 7 जुलाई तक अगर किसी भी दिन 9 हज़ार जांच हुई है तो मैं राजनीति से सन्यास ले लूंगा वरना आप ले लेंगे.'

 गौरतलब है कि तेजस्वी यादव कोरोना को लेकर लगातार राज्य सरकार पर हमला कर रहे हैं. ऐसे में अमिताभ कांत के बयान ने उन्हें और आधार प्रदान कर दिया. मंगलवार को पटना में में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि राज्य में कोरोना के हालात विस्फोटक हैं.साथ ही उन्होंने कहा था कि फ़िलहाल राज्य में चुनाव कराने का सही माहौल नहीं है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com