NDTV Khabar

ममता के मंच से तेजस्वी यादव ने पूछा, सीबीआई अमित शाह और उनके बेटे की क्यों नहीं करती जांच

तेजस्वी यादव ने कहा कि आलम यह है कि उनके द्वारा किए गए वादे आज तक पूरे नहीं किए जा सके. पीएम मोदी और उनकी सरकार ने सिर्फ अच्छे दिन के नाम पर  लोगों को ठगा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. सीएम ममता ने जो किया वह लोकतंत्र के लिए सही है
  2. पीएम मोदी पर लगाया सीबीआई के गलत इस्तेमाल का आरोप
  3. केंद्र सरकार के खिलाफ धरना दे रही हैं ममता बनर्जी
नई दिल्ली:

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के समर्थन में आए बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री और मौजूदा नेता विपक्ष तेजस्वी यादव ने पीएम मोदी और केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोल रहा है. उन्होंने मंगलवार को धरना स्थल से संबोधित करते हुए कहा कि पीएम मोदी और एनडीए के लोग देश को बर्बाद करने का काम कर रहे हैं. एनडीए को सत्ता में आए अब साढ़े चार साल से ज्यादा का समय हो गया है. लेकिन इस दौरान उन्होंने सिर्फ जुमलेबाजी ही की. उन्होंने कहा कि आलम यह है कि उनके द्वारा किए गए वादे आज तक पूरे नहीं किए जा सके. पीएम मोदी और उनकी सरकार ने सिर्फ अच्छे दिन के नाम पर  लोगों को ठगा है. तेजस्वी यादव ने  इस दौरान सीबीआई की कार्यशैली पर भी सवाल खड़े किए. उन्होंने कहा कि सीबीआई को सही में अपना काम करना है तो वह अमित शाह के घर पर छापेमारी करे. अमित शाह के बेटे से पूछताछ करे. लेकिन वह ऐसा नहीं करेगी.  बता दें कि ममता बनर्जी के धरने को विपक्ष का पूरा समर्थ मिल रहा है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ममता बनर्जी के धरने को अपना समर्थन देने की बात कही थी. ममता बनर्जी केंद्र सरकार द्वारा सीबीआई के गलत इस्तेमाल के खिलाफ बीते रविवार से ही धरने पर बैठी हुई हैं. 

मैं देश के लिए अपनी जान देने को तैयार हूं मगर अन्याय को बर्दाश्त नहीं करूंगी: ममता बनर्जी


तेजस्वी यादव ने आगे कहा कि हम यहां पर संविधान की रक्षा के लिए आए हैं. पीएम मोदी अपने विरोधियों को खत्म कर देना चाहते हैं इसलिए सीबीआई और अन्य एजेंसियों का इस्तेमाल कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि पीएम ने बीते साढ़े चार साल में क्या किया इसे लेकर उनके पास कोई जवाब नहीं है. तेजस्वी यादव ने ममता बनर्जी के धरने को समर्थन देते हुए कहा कि दीदी ने केंद्र सरकार की तानाशाही के खिलाफ मजबूत कदम उठाया है. आज तो आलम कुछ यूं है कि अगर आप बीजेपी के हां में हां मिलाओगे तो आप सही हो आपने उनका विरोध किया तो आपको बर्बाद कर दिया जाएगा. जो बीजेपी में जाता है वह सही हो जाता है चाहे वह कोई भी हो कितना भी भ्रष्ट हो. मुकुल रॉय पहले टीएमसी थे तो आरोपी थे बीजेपी में गए तो सभी आरोप मुक्त हो गया. बिहार में नीतीश कुमार का भी यही हाल है.

ममता बनर्जी आखिर क्यों हैं पीएम मोदी के खिलाफ सबसे ज्यादा हमलावर?

नीतीश कुमार ने बीते कुछ समय में कई बड़े घोटाले किए लेकिन उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होगी. ऐसा इसलिए क्योंकि वह बीजेपी के साथ हैं. लेकिन जो बीजेपी के साथ नहीं है सीबीआई सिर्फ उन्हें तंग करेगी. तेजस्वी यादन ने कहा कि सीबीआई तब कहां थी जब नीरव मोदी और मेहुल चोकसी देश से भाग रहे थे. सीबीआई के पहले जो डॉयरेक्टर थे आलोक वर्मा ने आरोप लगाया कि उनके ऊपर राजनीतिक दबाव रहता था कि वह राजनेताओं को फंसा कर जेल भेजे. सीबीआई के लीगल विंग ने कहा कि लालू जी के खिलाफ कोई कार्रवाई नही बनती लेकिन फिर भी कार्रवाई की. उन्होंने आगे कहा कि यह लड़ाई पीएम पद के लिए नहीं है यह लड़ाई देश और संविधान और लोकतंत्र को बचाने के लिए है. हम सुप्रीम कोर्ट का सम्मान करते हैं. ममता जी ने कहा ठीक कहा कि यह नैतिक जीत है. तेजस्वी ने कहा कि मोदी जी, अरुण जी, रविशंकर प्रसाद जी हलफनामा में लिखकर दो कि आगे अगर सत्ता बनाने के लिए इनमें से किसी का साथ लेना होगा तो आप नहीं लोगे. मैं दावे के साथ कहता हूं कि वह ऐसा नहीं करेंगे. 

VIDEO: सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर ममता ने बताई जीत.

 

 

टिप्पणियां

 

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement