तेजस्वी यादव अब बेरोज़गारी हटाओ के मुद्दे पर करेंगे यात्रा, 23 फरवरी से होगी शुरुआत

तेजस्वी यादव बेरोजगारी हटाओ यात्रा पर 23 फ़रवरी से निकलेंगे. यात्रा के लिए एक हाई टेक बस को रथ का स्वरूप दिया गया हैं जिसका नाम युवा क्रांति रथ रखा गया हैं

तेजस्वी यादव अब बेरोज़गारी हटाओ के मुद्दे पर करेंगे यात्रा, 23 फरवरी से होगी शुरुआत

RJD नेता तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

पटना:

बिहार में विधान सभा चुनाव के मद्देनज़र अब यात्राओं का दौर शुरू हो गया है. जहां मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जल,जीवन, हरियाली कार्यक्रम के नाम पर पूरे बिहार की यात्रा की, वहीं नगरिकता क़ानून, NPR और NRC के मुद्दे पर CPI नेता कन्हैया कुमार फ़िलहाल जन गण मन यात्रा कर रहे हैं. अब विपक्ष के नेता और राजद के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव बेरोज़गारी हटाओ यात्रा पर जाने की घोषणा की हैं.

तेजस्वी यादव इस यात्रा पर 23 फ़रवरी से निकलेंगे. इसके लिए एक हाई टेक बस को रथ का स्वरूप दिया गया हैं जिसका नाम युवा क्रांति रथ रखा गया हैं. इस यात्रा के दौरान तेजस्वी पूरे राज्य के सभी जिलो का दौरा करेंगे. राजद का आकलन हैं कि बेरोज़गारी को मुख्य मुद्दा बनाकर नीतीश सरकार के ख़िलाफ़ व्यापक आंदोलन खड़ा किया जा सकता हैं. ख़ासकर बिहार में जहां से रोज़गार की तलाश में पलायन एक आम बात है वहां इस समस्या को मुद्दा बनाकर केंद्र और राज्य सरकार दोनों को घेरा जा सकता हैं .

बिहार महागठबंधन में दो फाड़, शरद यादव की अगुवाई में विधानसभा चुनाव लड़ने की उठी मांग

हालांकि तेजस्वी यादव ने इससे पूर्व नागरिकता क़ानून के ख़िलाफ़ भी कुछ जिलों का दौरा किया था लेकिन पार्टी के नेताओं का कहना हैं कि धार्मिक ध्रुवीकरण कि रिपोर्ट के बाद इस यात्रा को ख़त्म कर दिया गया. ये अभी साफ़ नहीं हैं कि जब बिहार विधान सभा का बजट सत्र चलता रहेगा तब सदन की कारवाई छोडकर तेजस्वी सड़क पर आंदोलन करेंगे प्रभाव निश्चित रूप से राजद के ऊपर  पड़ेगा. लेकिन पार्टी नेता मानते हैं इस यात्रा में सहयोगी दलों की कोई भूमिका नहीं होगी क्योंकि ये राजद का कार्यक्रम हैं.

नीतीश कुमार की JDU को क्यों लगता है कि फिर से मुट्ठी में होगा बिहार?

इस बीच इस यात्रा के मद्देनज़र पार्टी ने अपने नवनियुक्त पदाधिकारियों को ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को जन सभाओं में लाने की ज़िम्मेवारी सोपी हैं . पार्टी में पिछले हफ़्ते जो नये जिला अध्यक्ष और महासचिव की नियुक्ति हुई हैं उसमें नये चेहरे और अति पिछड़ी जाति के लोगों को पहली बार प्राथमिकता दी गयी हैं.
VIDEO: महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला के बाद शाह फैसल पर भी लगा PSA

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com