NDTV Khabar

तेलंगाना सरकार के इस फैसले के बाद बस्तों के बोझ तले नहीं दबेगा बच्चों का भविष्य

तेलंगाना सरकार ने एक फैसले में स्कूली बच्चों के बस्तों के वजन की सीमा 1.5 किलोग्राम से पांच किलोग्राम के बीच तय कर रही है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तेलंगाना सरकार के इस फैसले के बाद बस्तों के बोझ तले नहीं दबेगा बच्चों का भविष्य

पहली से 5वीं कक्षा में पढ़ने वाले बच्चों को होमवर्क देने पर भी रोक लगा दी गई है.

नई दिल्ली: बस्तों का भारी-भरकम बोझ उठाए हांफते और पस्त दिखते बच्चों की तस्वीरें अब बीते दिनों की बात हो जाएगी. तेलंगाना सरकार के नए फैसले के बाद बस्ते के बोझ तले बच्चों का भविष्य नहीं दबेगा. तेलंगाना सरकार ने एक फैसले में स्कूली बच्चों के बस्तों के वजन की सीमा 1.5 किलोग्राम से पांच किलोग्राम के बीच तय कर रही है. इतना ही नहीं उसने स्कूलों को प्राथमिक कक्षाओं यानी पहली से 5वीं कक्षा में पढ़ने वाले बच्चों को होमवर्क देने पर भी रोक लगा दी है.

बच्चों के भारी बस्ते की समस्या से निपटने के लिए सरकार ने विद्यालय प्रबंधन के लिए एक आदेश जारी किया है. यह आदेश कक्षा 1 से कक्षा 10 तक के छात्रों का बोझ काफी हद तक कम कर देगा. इससे भारी बस्तों की वजह से होने वाले 'विपरीत शारीरिक प्रभावों और चिंता विकारों' से उन्हें बचाया जा सकेगा. सरकार की तरफ से जारी किए गए आदेश के मुताबिक नोटबुक और किताबों समेत कक्षा एक और दो के लिए बस्ते का वजन 1.5 किलो से ज्यादा नहीं हो सकता है. कक्षा तीन से पांच के लिए वजन 2 से 3 किलो के बीच हो सकता है. 

वीडियो : कम होगा बस्ते का बोझ 



10वीं के लिए अधिकतम वजन पांच किलो

आदेश के मुताबिक कक्षा 10 तक के लिए बस्तों का अधिकतम वजन पांच किलो से ज्यादा नहीं होना चाहिए. कक्षा 6 से 7 के लिए बस्ते का अधिकतम वजन 4 किलो और कक्षा 8वीं से 9वीं के लिए साढ़े 4 किलो तय किया गया है. 

17 किलो तक हो जाता है बस्ते का वजन

अनुमानों के मुताबिक स्कूली छात्र अभी प्राथमिक स्तर पर बच्चों के बस्तों का वजन 6 किलो से 12 किलो के बीच होता है. वहीं, हाईस्कूल स्तर पर इनका वजन 17 किलो तक हो जाता है. 

टिप्पणियां
ये भी पढ़ें: बच्चों के बैग का बोझ कम करने के लिए स्कूलों को दिया जायेगा सॉफ्टवेयर: जावड़ेकर
स्कूल के भारी बैग से तंग दो छात्रों ने अपनी व्यथा बताने के लिए पत्रकारों को बुलाया

(इनपुट भाषा से भी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement