NDTV Khabar

हैदराबाद रेप केस पर संसद में बोलीं जया बच्चन- ऐसा करने वालों की लिंचिंग कर देनी चाहिए

हैदराबाद में हुए रेप की घटना पर राज्‍यसभा में चर्चा जारी है. इस दौरान सांसदों ने इस घटना की जमकर भर्त्‍सना की और कहा कि ऐसे मामलों में फैसला जितनी जल्‍दी हो सके उतना अच्‍छा होगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. रेप मामले की संसद तक गूंज
  2. सांसदों ने की कठोर कदम उठाने की मांग
  3. जया बच्चन बोलीं- बलात्कारियों को भीड़ के हवाले कर दें
नई दिल्ली:

समाजवादी पार्टी की राज्‍य सभा में सांसद जया बच्‍चन ने कहा कि हैदराबाद में जिस तरीके के घटना हुई है उसमें शामिल लोगों को पब्‍लिक के हवाले कर देना चाहिए. जया बच्‍चन ने कहा कि जहां पर घटना घटी है उससे एक दिन पहले भी वहां ऐसी घटना हुई थी. उन्‍होंने कहा कि मुझे समझ नहीं आ रहा है कि उसके लिए उस क्षेत्र के सुरक्षा अधिकारी से जवाब क्‍यों नहीं मांगा गया? उसने अपने काम में लापरवाही बरती है. उससे निश्चित रूप से सवाल किया जाना चाहिए और जवाब लिया जाना चाहिए. जया बच्‍च्‍न ने कहा कि यह काफी कठोर व्‍यवहार होगा लेकिन इस तरह के लोगों को पब्लिक के हवाले कर देना चाहिए ताकि पब्‍लिक ही इसको सजा दे.

हैदराबाद में हुए रेप की घटना पर राज्‍यसभा में चर्चा जारी है. इस दौरान सांसदों ने इस घटना की जमकर भर्त्‍सना की और कहा कि ऐसे मामलों में फैसला जितनी जल्‍दी हो सके उतना अच्‍छा होगा. सांसदों ने निर्भया वाले मामले का भी जिक्र किया और कहा कि उस मामले के सात साल बाद भी उसके दोषियों को अभी तक फांसी पर नहीं लटकाया गया है. देर से मिला न्‍यास अन्‍याय के समान होता है.


जस्थान: 6 साल की बच्ची का रेप के बाद उसकी स्कूल की बेल्ट से गला दबाकर मर्डर, 1 दिन बाद मिला शव

राष्‍ट्रीय जनता दल के सांसद मनोज झा ने इस घटना की निंदा करते हुए समाज में सुधार लाने पर बल दिया. उनका कहना था कि सबों की पुलिसिंग संभव नहीं है. एक जनमानस के मन की पुलिसिंग कैसे होगी. हमें समाज में जागरूकता लानी होगी. इस बीच दिल्‍ली सरकार ने निर्भया कांड में दोषी करार दिए गए विनय शर्मा की दया याचिका को खारिज कर दिया है. दिल्‍ली सरकार ने कहा है कि इसे जल्‍द से जल्‍द फांसी पर लटकाया जाए.

आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने कहा, सख्त कानून बना लेकिन उस पर अमल नहीं हो रहा है. निश्चित समय सीमा बनाकर उस पर अमल हो. आज तक निर्भया को न्याय नहीं मिला है. 

हैदराबाद रेप-मर्डर केस: मुख्यमंत्री KCR ने फास्ट ट्रैक कोर्ट गठित करने के दिए आदेश, घटना को भयावह बताया

वहीं राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने कहा, केवल कानून से काम नहीं चलगेा. बदलाव की जरूरत है. यह समाज की बीमारी है. केवल फास्ट ट्रैक कोर्ट से कुछ नहीं होगा. कम उम्र से कोई लेना देना नहीं, जिसने ऐसा काम किया, उसको क्या छोड़ा जा सकता है? एक डर होना चाहिए. समाज में जागरूकता पैदा करने की जरूरत है.

हैदराबाद : डॉक्टर से रेप मामले में बड़ा खुलासा, आरोपियों ने जानबूझकर पंचर की थी स्कूटी, मदद के बहाने किया गैंगरेप 

टिप्पणियां

बता दें कि गुरुवार रात मृतक महिला डॉक्टर की बीच रास्ते में स्कूटी ख़राब हो गई थी. सूनसान जगह गाड़ी ख़राब होने से वो ख़ौफ़ में थी. उसने अपने परिजनों को फोन कर इसकी जानकारी दी. बाद में उसका फोन बंद मिला और फिर जली हुई हालत में उसका शव बरामद हुआ. तेलंगाना के रंगारेड्डी ज़िले में डॉक्टर के साथ हैवानियत के खिलाफ देशभर में प्रदर्शन हो रहा है. वहीं, SI समेत तीन पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है. इन पुलिसवालों पर केस दर्ज करने और कार्रवाई करने में लापरवाही बरतने का आरोप है. इस मामले को लेकर पूरे देश में गम और गुस्से का माहौल है. इस बीच तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर रॉव (KCR) ने मामले की शीघ्र सुनवाई के लिए एक फास्ट ट्रैक कोर्ट का गठित करने का आदेश दिया. इस घटना के बाद अपने पहले बयान में केसीआर ने महिला से बलात्कार और हत्या मामले को 'भयावह' करार दिया और पीड़ा व्यक्त की. 

VIDEO: सिटी एक्सप्रेस: हैदराबाद रेप-मर्डर केस में मुख्यमंत्री KCR ने फास्ट ट्रैक कोर्ट गठित करने के दिए आदेश



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement