तेलंगाना के हेल्‍थवर्कर की टीका लगवाने के बाद मौत, अधिकारी बोले, 'मौत का वैक्सीन से संबंध नहीं'

शुरुआती जांच ऐसा लगता है कि इस हेल्‍थवर्कर की मौत का वैक्‍सीन से कोई संबंध नहीं है. गाइडलाइंस के अनुसार, डॉक्‍टरों की टीम की ओर से शव का पोस्‍टमार्टम किया जाएगा.

तेलंगाना के हेल्‍थवर्कर की टीका लगवाने के बाद मौत, अधिकारी बोले, 'मौत का वैक्सीन से संबंध नहीं'

शुरुआती जांच में सामने आया है, हेल्‍थवर्कर की मौत का वैक्‍सीन से कोई संबंध नहीं है (प्रतीकात्‍मक फोटो)

हैदराबाद :

तेलंगाना के निर्मल जिले में कोविड-19 का टीका लगवाने वाले 42 वर्षीय शख्‍स की सीने में दर्द की शिकायत के बाद आज सुबह मौत हो गई. एक स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारी के अनुसार, शुरुआती जांच में यह बात सामने आई है कि मौत का कोविड-19 वैक्‍सीन से कोई संबंध नहीं है. जानकारी के अनुसार, इस हेल्‍थ वर्कर को मंगलवार को सुबह 11:30 बजे जिले के प्राथमिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र (PHC) में टीका लगा था. बुधवार सुबह 2:30 बजे उसने सीने में दर्द की शिकायत की थी.

भारत में दो लाख से कम हुए एक्टिव केस, पिछले 24 घंटे में दर्ज हुए 13,823 नए COVID-19 मामले

स्‍वास्‍थ्‍य निदेशक जी. श्रीनिवास राव की ओर से जारी विज्ञप्ति में बताया गया है कि तड़के करीब 5:30 जब उसे जिला अस्‍पताल में लाया गया तब उसकी मौत हो चुकी थी. विज्ञप्ति के अनुसार, शुरुआती जांच ऐसा लगता है कि इस हेल्‍थवर्कर की मौत का टीकाकरण से कोई संबंध नहीं है. गाइडलाइंस के अनुसार, डॉक्‍टरों की टीम की ओर से शव का पोस्‍टमार्टम किया जाएगा.

6.31 लाख से ज्यादा लोगों को लगाया गया कोरोना का टीका, 0.18 प्रतिशत प्रतिकूल असर के मामले

विज्ञप्ति के अनुसार,  जिले की AEFI (adverse events after immunisation/टीकाकरण के बाद विपरीत प्रभाव) कमेटी इस मामले को देख रही है और अपनी रिपोर्ट राज्‍य AEFI कमेटी के समक्ष पेश करेगी. बाद में राज्‍य AEFI कमेटी की ओर से रिपोर्ट केंद्रीय AEFI कमेटी के अवलोकनार्थ भेजी जाएगी. तेलंगाना सहित पूरे देश में कोराना टीकाकरण अभियान का शुभारंभ 16 जनवरी से हुआ है. 


क्या कोरोना वायरस वैक्सीन के साइड इफेक्ट से डरे हुए हैं लोग

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)