बुलंदशहर में साधुओं की हत्या को लेकर संजय राउत ने किया Tweet, 'जिस तरह से कुछ लोगों ने पालघर मामले को...'

शिवसेना (Shiv Sena) नेता संजय राउत (Sanjay Raut) ने बुलंदशहर में साधुओं की हत्या को लेकर ट्वीट किया और एसे सांप्रदायिक रंग नहीं देने की अपील की.

बुलंदशहर में साधुओं की हत्या को लेकर संजय राउत ने किया Tweet, 'जिस तरह से कुछ लोगों ने पालघर मामले को...'

Bulandshahr: शिवसेना नेता संजय राउत (Sanjay Raut).

नई दिल्ली:

Bulandshahar News: देश में जारी कोरोना संकट के बीच उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में सोमवार की रात एक मंदिर परिसर में दो साधुओं की हत्या कर दी गई है. इसे लेकर सरकार से कार्रवाई की मांग की जा रही है. यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि बुलंदशहर के मंदिर में साधुओं की हत्या का राजनीतिकरण न हो और योगी सरकार न्यायोचित कार्रवाई करे. उधर, कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट किया कि यूपी की हत्याओं का राजनीतिकरण नहीं किया जाना चाहिए और आरोपियों को सजा मिलनी चाहिए. साधुओं की हत्या को लेकर महाराष्ट्र  के मुख्यमंत्री ने भी यूपी के सीएम से फोन पर बात की. अब शिवसेना नेता संजय राउत ने इसे लेकर ट्वीट किया और एसे सांप्रदायिक रंग नहीं देने की अपील की.

शिवसेना नेता संजय राउत ने ट्वीट किया, 'भयानक! बुलंदशहर, यूपी के एक मंदिर में दो साधुओं की हत्या, लेकिन मैं सभी से अपील करता हूं कि वे इसे सांप्रदायिक न बनाएं, जिस तरह से कुछ लोगों ने पालघर मामले में करने की कोशिश की. 

इससे पहले महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने कहा, 'बुलंदशहर के मंदिर में दो साधु-संतों की हत्या मामले में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने योगी आदित्यनाथ से फोन पर चर्चा की. उन्होंने साधुओं की हत्या को लेकर चिंता व्यक्त की. ऐसी अमानवीय घटना घटती है तब राजनीति न करके हमें एक साथ  काम करते हुए अपराधियों को दंडित करवाना चाहिए.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बता दें कि दोनों मृतक साधु अस्थाई रूप से मंदिर में रहते थे. घटना के आरोपी राजू को गिरफ्तार कर लिया गया है. उत्तर प्रदेश के  सीएम योगी आदित्यनाथ ने कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया है. उधर, मामले को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से फोन पर बात की. गौरतलब है कि महाराष्ट्र के पालघर में हाल में दो साधुओं समेत तीन लोगों की हत्या के बाद राजनीतिक गलियारे में घमासान मचा हुआ था और इसे सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश की जा रही थी. 

बता दें बुलंदशहर मामले में पुलिस के मुताबिक वारदात को अंजाम देते वक्त आरोपी ड्रग्स के नशे में था और अभी तक पूरी से होश में नहीं आया है. जैसे ही उसका नशा उतरेगा उससे पूछताछ की जाएगी. पुलिस अधिकारी ने यह भी जोड़ा कि इस घटना के पीछे कोई सांप्रदायिक बात नहीं है. वरिष्ठ पुलिस अधिकारी संतोष कुमार सिंह ने न्यूज एजेंसी ANI बताया कि दो बाबा इस मंदिर में रहते थे. मुरारी उर्फ राजू का नाम के शख्स ने इन दोनों का  चिमटा उठा ले गया. बताया जा रहा है कि इन दोनों बाबाओं ने इसी बात पर राजू को डांटा था. हत्या के बाद ग्रामीणों ने राजू की तलाश शुरू की. जब वह मिला तो वह भांग के नशे में था और बहुत ही कम कपड़े पहन रखे थे.