NDTV Khabar

टेरर फंडिंग मामले में नागालैंड सरकार के तीन अधिकारी गिरफ्तार, जांच शुरू 

एनआईए तीनों गिरफ्तार आरोपियों को सोमवार को विशेष अदालत में पेश करेगी. जहां एनआईए उनके विशेष रिमांड की मांग कर सकती है.

155 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
टेरर फंडिंग मामले में नागालैंड सरकार के तीन अधिकारी गिरफ्तार, जांच शुरू 

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली: टेरर फंडिंग के आरोप में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने नागालैंड सरकार के तीन वरिष्ठ अधिकारियों को गिरफ्तार किया है. एनआईए के अनुसार इन अधिकारियों पर सरकारी खजाने से जालसाजी कर आतंकी समूहों को कथित वित्तीय मदद देने का आरोप है. एनआईए ने जिन अधिकारियों को गिरफ्तार किया गया है उनके नाम जी इकूटो (कृषि निदेशालय के निदेशक),  कीटूजो पेसीई (ग्रामीण विकास निदेशालय में कार्यकारी इंजीनियर ) और संगतेमचूबा (शहरी विकास निदेशालय के संभागीय लेखा अधिकारी ) हैं. इन्हें दीमापुर से गिरफ्तार किया है.

यह भी पढ़ें: केरल IS भर्ती मामला: महिला सदस्य को 7 साल की जेल, 25,000 रुपये का जुर्माना

एनआईए तीनों गिरफ्तार आरोपियों को सोमवार को विशेष अदालत में पेश करेगी. जहां एनआईए उनके विशेष रिमांड की मांग कर सकती है. एनआईए के अनुसार यह पूरा मामला प्रतिबंधित आतंकी संगठन नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नगालैंड (खापलांग) के नाम पर दीमापुर और कोहिमा में विभिन्न सरकारी संगठनों और अन्य से बड़े पैमाने पर फिरौती और अवैध कर वसूली के आरोपों से जुड़ा है .

यह भी पढ़ें: NIA को श्रीनगर जेल से मिले पाकिस्‍तानी झंडे और जिहादी सामग्री मिली

एनआईए ने कहा है कि एनएससीएन-के स्वयंभू ब्रिगेडियर इसाक सूमी और संगठन के अन्य वरिष्ठ कैडरों के निर्देश के तहत यह अवैध गतिविधि अंजाम दी गई. अधिकारी ने बताया कि इन गिरफ्तार अधिकारियों ने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए एनएससीएन-के को वित्तीय मदद प्रदान की.

टिप्पणियां
VIDEO: टेरर फंडिंग मामले को लेकर अधिकारी निलंबित.


एनआईए इन तीनों अधिकारियों से फिलहाल पूछताछ कर रही है. साथ ही इनके बैंक एकाउंट्स की जांच भी की जा रही है. जांच अधिकारियों के अनुसार इस मामले में कुछ अन्य लोगों की भी गिरफ्तारी की जा सकती है. (इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement