NDTV Khabar

आतंकवादी के अंतिम संस्कार में हथियार के साथ पहुंचा हिजबुल सदस्य

दक्षिणी कश्मीर में शनिवार को हिजबुल मुजाहिदीन का एक वांछित आतंकवादी अपने एक साथी आतंकवादी के अंतिम संस्कार में शामिल हुआ. इतना ही नहीं एके-47 लटकाए इस वांछित आतंकवादी ने अंतिम संस्कार के दौरान भाषण भी दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आतंकवादी के अंतिम संस्कार में हथियार के साथ पहुंचा हिजबुल सदस्य

आतंकवादी शारिक अहमद को पुलवामा में सुरक्षा बलों ने मुठभेड़ के दौरान मार गिराया था (प्रतीकात्मक चित्र)

खास बातें

  1. अंतिम संस्कार के दौरान पाकिस्तान समर्थक नारे लगाए गए
  2. हमद नाइकू ने अंतिम संस्कार में करीब 20 मिनट का भाषण दिया
  3. संघर्ष को अल कायदा या आईएस से जोड़ना उन्हें बदनाम करना
श्रीनगर:

दक्षिणी कश्मीर में शनिवार को  हिजबुल मुजाहिदीन  का एक वांछित आतंकवादी अपने एक साथी आतंकवादी के अंतिम संस्कार में शामिल हुआ. इतना ही नहीं एके-47 लटकाए इस वांछित आतंकवादी ने अंतिम संस्कार के दौरान भाषण भी दिया, जिसमें उसने कहा कि वैश्विक आतंकवादी संगठन  अल-कायदा  को कश्मीर के साथ जोड़ना उनके आंदोलन को बदनाम करना है.

बाएं कंधे पर एके-47 लटकाए रियाज अहमद नाइकू ने अंतिम संस्कार में शामिल रहे लोगों के सामने करीब 20 मिनट तक भाषण दिया. अपने भाषण में उसने कहा कि कश्मीर में अल कायदा इकाई गठित करने से जुड़ा हालिया वक्तव्य कश्मीर वासियों की आजादी की लड़ाई को बदनाम करने के उद्देश्य से दिया गया और यह लड़ाई देश के अंदर पनपा घरेलू संघर्ष है. उसने कहा कि इस्लाम का झंडा थामने वाला हर व्यक्ति जरूरी नहीं कि हमारा आदमी हो. आतंकवादी ने कहा कि उनके संघर्ष को अल कायदा या इस्लामिक स्टेट से जोड़ना उन्हें बदनाम करने की साजिश है.

यह भी पढ़ें:
त्राल में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ खत्म, तीनों आतंकी ढेर
अनंतनाग में लश्कर के तीन आतंकी मारे गए, 6 महीने में 100 आतंकी हो चुके हैं ढेर


हालांकि रियाज ने अपने भाषण में हिजबुल के अपने पूर्व साथी जाकिर मूसा का जिक्र नहीं किया, जिसे कश्मीर में अल कायदा इकाई का मुखिया बनाया गया है. अंतिम संस्कार के दौरान पाकिस्तान समर्थक नारे लगाए गए. अंतिम संस्कार में उपस्थित रहने के दौरान ली गई नाइकू की तस्वीरें सोशल नेटवर्क पर तेजी से वायरल हुई हैं.

टिप्पणियां

VIDEO:सैयद सलाहुद्दीन को ग्लोबल आतंकी घोषित किया नाइकू अपने साथी आतंकवादी शारिक अहमद के अंतिम संस्कार में शामिल होने आया था, जिसे पुलवामा जिले के तहाब गांव में सुरक्षा बलों ने मुठभेड़ के दौरान मार गिराया था.
 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement