NDTV Khabar

The Accidental Prime Minister: कुमार विश्वास का तंज- जरूरी मुद्दे भाड़ में गए, फिल्म देखो और तय करो वोट किसे देना है!

कुमार विश्वास (Kumar Vishwas) ने तंज कसा है. उन्होंने ट्वीट किया, 'भाड़ में गए देश के ज़रूरी मुद्दे यार, फ़िल्म देखो और तय करो कि वोट किसे देनी है! जिसने ज़्यादा अच्छा अभिनय किया है उसे या जो ज़्यादा अच्छा अभिनय कर रहा है उसे?

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
The Accidental Prime Minister: कुमार विश्वास का तंज- जरूरी मुद्दे भाड़ में गए, फिल्म देखो और तय करो वोट किसे देना है!

कुमार विश्वास. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

फिल्म द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर (The Accidental Prime Minister) का ट्रेलर रिलीज हो गया है. ट्रेलर रिलीज होते ही इस पर विवाद भी शुरू हो गया है. कांग्रेस नेताओं ने अनुपम खेर (Anupam Kher) अभिनीत फिल्म 'द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर' को अपनी पार्टी के खिलाफ भाजपा का दुष्प्रचार करार दिया है. हालांकि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) ने इस फिल्म को लेकर कोई भी टिप्पणी करने से इनकार कर दिया. कांग्रेस नेताओं ने कहा कि भाजपा का यह दुष्प्रचार काम नहीं करेगा और सच की जीत होगी. इसी मुद्दे को लेकर कवि कुमार विश्वास (Kumar Vishwas) ने तंज कसा है. उन्होंने तंज कसते हुए ट्वीट किया, 'भाड़ में गए देश के ज़रूरी मुद्दे यार, फ़िल्म देखो और तय करो कि वोट किसे देनी है! जिसने ज़्यादा अच्छा अभिनय किया है उसे या जो ज़्यादा अच्छा अभिनय कर रहा है उसे? शांतता नाटक चालू आहे. बता दें कि मराठी शब्द 'शांतता नाटक चालू आहे' मतलब होता है, शांति रखें नाटक जारी है..

 


 

ये फिल्म, संजय बारू की किताब 'The Accidental Prime Minister' पर आधारित है. यह फिल्‍म 11 जनवरी को रिलीज हो रही है. संजय बारू मई 2004 से अगस्त 2008 तक पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के मीडिया सलाहकार पद  पर कार्यरत रह चुके हैं. किताब में संजय बारू का दावा था कि मनमोहन सिंह ने सोनिया गांधी के सामने घुटने टेक दिए थे. फिल्म में संजय बारू का किरदार अक्षय खन्ना निभा रहे हैं. 

यह भी पढ़ें: The Accidental Prime Minister Trailer: 'महाभारत में दो फैमिलीज थीं. इंडिया में तो एक ही है'- ऐसे ही 7 शानदार डायलॉग

बता दें कि एक दिन पहले रिलीज हुए इस फिल्म के ट्रेलर के सामने आने के बाद कांग्रेस इस फिल्म को बीजेपी का एजेंडा करार दे रही है, वहीं महाराष्ट्र यूथ कांग्रेस ने रिलीज से पहले फिल्म दिखाए जाने की मांग की है. फिल्म 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' पर हो रहे विरोध के बाद मुख्य अभिनेता अनुपम खेर का कहना है, 'जितना ज़्यादा वे (कांग्रेस नेता) विरोध करेंगे, उतना ही ज़्यादा प्रचार फिल्म को हासिल होगा. पुस्तक वर्ष 2014 से बाज़ार में है, तब से अब तक तो कोई विरोध नहीं किया गया, सो, फिल्म भी उसी पर आधारित है.'

यह भी पढ़ें: The Accidental Prime Minister: अनुपम खेर को ऑस्कर दिलाएंगे 'मनमोहन सिंह', सबके सामने जताई यह इच्छा...

अभिनेता अनुपम खेर (Anupam kher) ने कहा कि इस फिल्म को 'ऑस्कर' के लिए नॉमिनेट होना चाहिए. बजाय इसके हम इस बात पर चर्चा कर रहे हैं कि फिल्म रिलीज होनी चाहिए या नहीं. अनुपम खेर ने दावा किया कि दर्शकों को मनमोहन सिंह का किरदार बहुत पसंद आएगा. अनुपम खेर ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में कहा कि मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) की तरह नकल करने के लिए मैंने किताब पढ़ीं. मैंने पहली अपने करियर की पहली फिल्म में 28 साल की उम्र में 65 साल के बुजुर्ग का किरदार निभाया था. मेरे 25 साल के करियर की यह सबसे कठिन फिल्म है. इस फिल्म ऑस्‍कर के लिए होनी चाहिए, लेकिन इस पर विवाद शुरू हो गया है. आज से 25 साल बाद जब फिल्मों का इतिहास लिखा जाएगा तो इस फिल्म का नाम सबसे पहले लिया जाएगा.

देखें फिल्म का ट्रेलर- 

टिप्पणियां

उन्होंने कहा कि यूथ कांग्रेस के लीडर ने इस बारे में एक खत लिखा, लेकिन पहले मैंने इग्‍नोर कर दिया. हमने फिल्म सेंसर बोर्ड को दिखाई और फिर वहां से मंजूरी मिली है.. इसलिए फिल्म को किसी और दिखाने का कोई मतलब नहीं है. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement