तनिष्क के समर्थन में आए विज्ञापन संघ, "डराने वाले व्यवहार" पर कार्रवाई की मांग की

इस हफ्ते की शुरुआत में कंपनी (तनिष्क) ने कहा कि वह अपने कर्मचारियों, भागीदारों और स्टोर कर्मचारियों की भलाई को ध्यान में रखते हुए विज्ञापन वापस ले रही है. 

तनिष्क के समर्थन में आए विज्ञापन संघ,

नई दिल्ली:

तनिष्क (Tanishq) के विज्ञापन में अलग धर्म के साथ गोद भराई की रस्म को दर्शाया गया है, यह किसी भी तरह से नैतिक मानकों को नहीं तोड़ता है और यह संगठन या धर्म या किसी भी व्यक्ति के लिए अपमानजनक नहीं है." देश के शीर्ष विज्ञापन निकायों ने अपने बयानों में कहा है.

विज्ञापन संघ आभूषण ब्रांड के साथ एकजुटता दिखा रहे हैं, जिसे सोशल मीडिया पर ट्रोलिंग के कारण अपना विज्ञापन वापस लेना पड़ा. द् एडवर्टाइजिंग क्लब (The Advertising Club) ने अपने बयान में कहा, "रचनात्मक अभिव्यक्ति पर इस तरह के निराधार और अप्रासंगिक हमले अत्यंत चिंताजनक हैं."

यह भी पढ़ें- तनिष्क के स्टोर पर हुआ हमला तो भड़के बॉलीवुड डायरेक्टर, बोले- इन्हें गिरफ्तार करने की जरूरत है...

बयान में आगे कहा गया है, "द् एडवर्टाजिंग क्लब भारतीय मीडिया और विज्ञापन उद्योग की तरफ से तनिष्क और उसके कर्मचारियों को नई ज्वेलरी लाइन पर उनके नवीनतम विज्ञापन के संबंध में धमकी देने और निशाना बनाए जाने की कड़ी निंदा करता है."

अंतर्राष्ट्रीय विज्ञापन संघ (International Advertising Association) के भारतीय चैप्टर (Indian chapter) ने उन घटनाओं का वर्णन किया जिनके कारण विज्ञापन को "बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण" कहा गया था और सरकार से "भयभीत करने वाले व्यवहार" के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई थी. 

आईएए के इंडियन चैप्टर ने कहा, "जबकि हम व्यक्तिपरक मामलों पर प्रत्येक व्यक्ति की राय का सम्मान करते हैं, इनको अवैध खतरों और असामाजिक व्यवहार के लिए नहीं उतरना चाहिए... हम संबंधित सरकारों से इस तरह के डराने वाले व्यवहार के बारे में गंभीर विचार करने और अनुकरणीय कार्रवाई करने की अपील करते हैं जहां यह सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक है कि व्यवसायों को अपने ब्रांड विज्ञापन संदेशों को संप्रेषित करने के लिए एक सुरक्षित वातावरण प्रदान किया जाए. "

पिछले सप्ताह जारी विज्ञापन को सोशल मीडिया पर एक ऐसे वर्ग द्वारा निशाना बनाया गया जिसने महसूस किया कि यह "लव जिहाद को बढ़ावा" देता है. लेकिन कई अन्य लोगों ने इस बहिष्कार और घृणा से भरे पोस्टों की निंदा करते हुए इस प्रवृत्ति को धक्का दिया और इसे पूरी तरह से आइडिया ऑफ इंडिया के खिलाफ बताया.

इस हफ्ते की शुरुआत में कंपनी (तनिष्क) ने कहा कि वह अपने कर्मचारियों, भागीदारों और स्टोर कर्मचारियों की भलाई को ध्यान में रखते हुए विज्ञापन वापस ले रही है. 

गुजरात में तनिष्क़ के स्टोर को मिली धमकियां
Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com