प्रयागराज में ‘विवाह’ की रियल रिमेक, दुल्हन की रीढ़ की हड्डी टूटी, दूल्हे ने अस्पताल में शादी रचाई

अस्पताल के डॉक्टर सचिन सिंह ने कहा, “लड़की फिलहाल अपंग हो गई है और कई महीने तक बिस्तर से नहीं हिल सकती है. लड़की अपने छत से गिर गई थी.

प्रयागराज में ‘विवाह’ की रियल रिमेक, दुल्हन की रीढ़ की हड्डी टूटी, दूल्हे ने अस्पताल में शादी रचाई

दूल्हे अवधेश ने आरती संग अस्पताल में रचाई शादी.

प्रयागराज:

15 साल पहले रिलीज हुई शाहिद कपूर और अमृता राव की फिल्म ‘विवाह' तो याद होगी आप सभी को, जिसमें दुल्हन बनने वाली अमृता राव अपनी चचेरी बहन को घर में लगी आग से बचाने के चक्कर में खुद झुलस जाती है. फिल्म में अमृता राव शादी के दिन ही आग में झुलस जाती है. लेकिन दूल्हा बने शाहिद कपूर हादसे के बारे में पता चलने पर पीछे नहीं हटते हैं. वह अस्पताल में ही अमृता राव की मांग भरते हैं.

ऐसा फिल्मों में अक्सर देखने को मिल जाता है लेकिन रियल लाइफ में कम ही देखने को मिलता है. 15 साल बाद यही कहानी रियल लाइफ में रीमेक बनके सामने आई है. मामला उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले का है. यहां शादी से आठ घंटे पहले दुल्हन छत पर खेल रहे बच्चे के चक्कर में छत से गिर गई. हादसे में उसकी रीढ़ की हड्डी टूट गई और दोनों पैरों की ताकत भी चली गई. घरवालों ने हादसे के बाद दुल्हन को प्रयागराज जिले के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया था.

एक दूल्हे के संग दो दुल्हनों ने लिए फेरे : एक गर्लफ्रेंड, दूसरी मम्मी-पापा की पसंद, Video देखें

दूल्हे अवधेश के घरवालों को जब हादसे की सूचना मिली. वह दुल्हन को देखने के लिए अस्पताल पहुंचे. शादी को लेकर फिक्रमंद लड़की के परिजनों ने दूल्हे को अपनी छोटी बेटी से शादी करने को कहा. लेकिन दूल्हे ने छोटी बेटी से शादी करने से इनकार कर दिया. दूल्हे ने कहा कि वह उसी के साथ शादी करेगा, जिसके साथ उसका रिश्ता तय हुआ है.

एएनआई से बात करते हुए अस्पताल के डॉक्टर सचिन सिंह ने कहा, “लड़की फिलहाल अपंग हो गई है और कई महीने तक बिस्तर से नहीं हिल सकती है. लड़की अपने छत से गिर गई थी. इस हादसे में उसकी रीढ़ की हड्डी में चोट आई है. अभी उसके पैर हिलडुल नहीं पा रहे हैं. चूंकि उसकी शादी होनी थी इसलिए हमने अस्पताल परिसर में ही शादी की रस्में निभाने की अनुमति दे दी. हमने लड़की को चलने-फिरने से मना किया है.”

शादी के दिन संविधान की किताब लेकर दुल्हन के घर पहुंचा दूल्हा, बिना 7 फेरे लिए ऐसे किया विवाह...

डॉक्टर ने कहा, “दुल्हन बिस्तर पर है ऐसे में उसे अस्पताल में शादी करते देखना काफी अच्छा लगा. खासतौर पर हादसे के बाद भी दूल्हा शादी के लिए तैयार है.” वहीं दुल्हे अवधेश का कहना है कि जो कुछ हुआ है, तकदीर में लिखा था. दुल्हे ने कहा, 'मैंने इस इस मुश्किल घड़ी में उसका साथ देने का फैसला किया.” दुल्हन आरती ने कहा, ' शुरुआत में, शादी को लेकर मैं थोड़ा डर गई लेकिन बाद में मेरे पति ने कहा वह हमेशा मेरे साथ रहेंगे चाहे मेरी हालत जैसी भी रहे। मुझे यह जानकर खुशी हुई.'


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com